जननी सुरक्षा योजना , जननी सुरक्षा योजना का उद्देश्य

जननी सुरक्षा योजना

जननी सुरक्षा योजना :- जननी सुरक्षा योजना महिलाओं को दी जाने वाली सुरक्षा में से एक है। महिलाओं के लिए यह सुरक्षा योजना किसी वरदान से कम नहीं है। निर्धनता के चलते  महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान स्वयं को महत्वपूर्ण जांच प्रक्रिया से वंचित रहना पड़ता है ।जिससे उनके स्वास्थ पर विपरीत प्रभाव पड़ता है । इस समस्या से हल निकालने के लिए सरकार ने जननी सुरक्षा योजना प्रारंभ की है।

आमतौर देश में व्यक्ति को दो रोटी जुटा पाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है। ऐसे में वहां अपनी स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को अनदेखा कर देता है ।विशेष तौर पर आर्थिक रूप से कमजोर गर्भवती महिलाओं को ऐसी समस्या का सामना करना पड़ता है। क्योंकि उनके पास पैसे नहीं होते ,जिससे कि वह अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान दे सकें ,पैसे के अभाव में उन्हें अपनी और अपने नवजात शिशु की जान का जोखिम उठाना पड़ता है।

इस खतरे पर अंकुश लगाने के लिए यह योजना काफी प्रभावी सिद्ध हो रही है। इस योजना का मूलभूत उद्देश्य माता एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाना ।इसके अतिरिक्त प्रसव को प्रोत्साहित करने को ध्यान में रखते हुए यह योजना संचालित की गई ।इस योजना की शुरुआत 2005 में हुई थी ,इसके तहत गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

जननी सुरक्षा योजना का उद्देश्य :-
1.) देश में गर्भावस्था के दौरान आने वाली स्वास्थ संबंधी परेशानी के कारण 56,000 से अधिक महिलाओं की मृत्यु हो जाती है। इस समस्या से निपटने के लिए या योजना ग्रामीण एवं शहरी गर्भवती महिलाओं के लिए तैयार की गई है।
2.) इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिला का प्रसव कराने में स्वास्थ्य कर्मचारी के रूप में आशा का अहम योगदान होगा जिससे गर्भवती महिला और आशा कर्मचारी दोनों को आर्थिक लाभ पहुंचेगा।
3.) इस योजना के माध्यम से प्रतिवर्ष एक करोड़ से अधिक गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य लाभ के साथ ही सरकार की ओर से सहयोग राशि प्राप्त होती है।
4.) एक आंकड़े के अनुसार प्रतिवर्ष 1 साल के अंदर देश में 13 से अधिक नवजात की मृत्यु हो जाती है ,इस समस्या के निवारण हेतु यह योजना तैयार की गई है।
5.) इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिला के गर्भावस्था की संपूर्ण रेख़ -देख का कार्य आशा कार्यकर्ता के हाथों सौंप दी जाती है ।वह प्रसव कराने से पहले और बाद की सारी जिम्मेदारी उसी की होती है।

राजस्थान जननी सुरक्षा योजना के लिए आवेदक का मापदंड :-
1.) इस योजना का लाभ सभी वर्ग की महिलाएं सरकारी चिकित्सा संस्थान यह मान्यता प्राप्त निजी चिकित्सा पर चिकित्सा हेतु भर्ती होती है।
2.) इस योजना के तहत बीपीएल परिवार की गर्भवती महिला जिसका प्रसव होता है उसी को इस योजना से लाभ प्राप्त होगा।
3.) गर्भवती महिला का राजस्थान की स्थाई निवासी हो।
4.) इस योजना से जुड़ने के लिए गर्भवती महिलाओं को सरकारी चिकित्सा संस्थानों या किसी मानने निजी चिकित्सालय पर जाकर प्रसव कराने वाली महिलाओं को ही प्राप्त होगा। इसके साथ ही सामान बोर्ड में भर्ती होने वाली महिलाओं को ही योग्य समझा जाएगा।
5.) बीपीएल( BPL) परिवार की गर्भवती महिलाएं जिनका घर पर ही प्रसव हुआ होगा, वह भी इसके पात्र माने जाएंगे।
6.) राजस्थान जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सहयोग राशि
7.) इस योजना से लाभ पाने के लिए शहर और ग्रामीण दोनों क्षेत्रो में निवास  करने वाली महिलाओं को सहयोग राशि प्राप्त होगी, परंतु यह रकम दोनों में अलग -अलग होगी।

गर्भवती ग्रामीण महिलाओं को दी जाने वाली सहयोग राशि :- ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाली गर्भवती महिलाओं को प्रसव कराने पर 1400 कि नकद रकम  और 300 आशा सहयोगिनी प्रसव के प्रोत्साहन के लिए  ₹300 की रकम प्रसव पूर्व की सेवाएं प्रदान करने के लिए दिए जाते हैं ।

शहरी गर्भवती महिलाओं को दी जाने वाली रकम :- शहर क्षेत्र में रहने वाली गर्भवती महिलाओं को प्रसव करवाने पर ₹1000 की रकम की सहयोग राशि जाएगी ।इसके साथ ही ₹200 आशा कार्यकर्ता को प्रसव के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा ।इसके अतिरिक्त ₹200 दी गई सेवाओं के लिए जाएंगे।

जननी सुरक्षा योजना की भूमिका गर्भवती महिलाओं के लिए :- जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को प्रसव कराने की कार्यकर्ता यानी आशा का महत्वपूर्ण भूमिका है। देश के बहुत से ऐसे  है जहां पर स्वास्थ्य संबंधी कोई विशेष सुविधा नहीं होती ।इन इलाकों में आशा की कार्यकर्ता गरीब महिलाओं और सरकार के बीच  एक  पुल का कार्य करती है ।आशा कार्यकर्ता जननी सुरक्षा योजना में लाभार्थी महिला को सरकार द्वारा दी गई योजना को जोड़ने में सहायक होती हैं।

इससे आर्थिक रूप से कमजोर गर्भवती महिलाओं को अच्छे स्वास्थ्य सुविधा मिल जाती है ,जिससे उनका शिशु और वह स्वयं सुरक्षित हो जाती है ।इसके अतिरिक्त उन्हें कुछ सहयोग राशि भी इस योजना के तहत मिल जाती है। बस इसके लिए बस उन्हें आशा कार्यकर्ता का सहयोग कर रहा होता है ।कुछ औपचारिकताओं को पूर्ण करना होता है

 

 

Join WhatsApp Group
Join Facebook Group
Subscribe YouTube Channel
Subscribe Telegram Channel
Topic Wise Question Bank E -Books(PDF)  
Rajasthan Geography Question Bank:- Buy Now 
  Rajasthan History Question Bank:- Buy Now 
  Rajasthan Arts And Culture Questions Bank:- Buy Now
Indian Geography Question Bank:- Buy Now
  Indian History Question Bank:- Buy Now   
General Science Questions Bank:- Buy Now
Rajasthan Geography Hand Writing Notes PDF:- Buy Now
Computer Digital Notes PDF:- Buy Now

Treading

Load More...
You cannot copy content of this page