PPH Full Form In Hindi

PPH Full Form In Hindi: PPH  600एमजी टेबलेट  मिसोप्रोस्टॉल का इस्तमाल डॉक्टर की सलाह से लेनी चाहिये। इसका इस्तमाल पेट के अल्सर  के लिये भी किया जाता है, बच्चे के जन्म के पहले 24घंटे के अंदर PPH  अधिक मात्रा मे रक्त का बहाव होता है और विश्व मे जितनी भी महिलाओ को बच्चे के जन्म  समय 1-5 % अधिक मात्रा मे रक्तस्त्राव  होता है। मिसोप्रोस्टॉल टेबलेट लेने से पहले आपको डॉक्टर को सूचित कर देना चाहिये की  आपको कौन कौन सी समस्याये है। आपको दिल की बीमारी होती है। तो आप ये टेबलेट का बिल्कुल सेवन नहीं करना चाहिए, और आपको किडनी से संबंधित कोई परेशानी है तो इस टेबलेट सेवन नहीं करे।

What is PPH in hindi

PPH डॉक्टर की सलाह से लिखी गई दवाई होती है। जो  यह दवाई गोली के रूप मे मिलती है। इस दवाई का उपयोग एबोर्शन करने के लिये किया जाता है। लेकिन यह दवाई को गर्भवती महिलाओ 1-2 महीने  होने तक ये टेबलेट एबोर्शन करने मे मदद करती है। अगर 3-6 महीना हो गया तो यह  टेबलेट काम नहीं करती है। यह टेबलेट सिर्फ 1-2 और 3 महीने तक गर्भपात करने मे मदद करती है। PPH किन -किन महिलाओ को लेना चाहिये कितनी उम्र वाली महिलाओ को लेना चाहिए। ये सब डॉक्टर की सलाह से लेना चाहिए। PPH टेबलेट का इस्तमाल अन्य जगहों मे भी किया जाता है। जैसे:- कि बच्चे के जन्म होने के बाद महिलाओ के गर्भाशय मे सुकड़न आ जाती है,उनकी गर्भाशय को कसने के लिये PPH का इस्तमाल किया जाता है।

PPH full form in hindi

1. PPH full form in english :- Post partum Hemorrhage.
2. PPH full form in hindi:- प्रसवोत्तर रक्तस्त्राव है।

माँ जब बच्चे को जन्म देती है उसके बाद महिलाओ को 500ml से 1000 ml तक रक्तस्त्राव  होता है। PPH कि दवा ले रहे है तो इसके साथ अन्य दवाई नहीं लेना चाहिये, क्योंकि  अन्य मेडिसन लेने से आपकी बॉडी मे साइड इफ़ेक्ट भी हो सकते है। PPH का इस्तमाल दो जगहों मे किया जाता है बच्चे की डिलेवरी के समय ज़ब गर्भाशाय को जल्दी बंद करने के लिये ताकि बच्चे को एनिमिया का शिकार होने से रोका जा सकेऔर दूसरा गर्भवती महिलाओ का एबोशन करवाने के लिये PPH का उपयोग किया जाता है।

Conclusion

PPH को post partum hemorrhage या प्रसवोतर रक्त स्त्राव भी कहते है। गर्भाअवस्था को खत्म करने के लिये कुछ लोग 600mg PPH टेबलेट का इस्तमाल किया जाता है। 600mg pph tblet का इस्तमाल वही महिलाओ लेना चाहिए। जो  महिलाये  बच्चो को दूध नहीं पिलाती हो, उनको ये टेबलेट का सेवन करना चाहिए।  600mg pph tblet लेने के बाद कुछ  महिलाओ को साइड इफ़ेक्ट भी होते है। जैसे-उल्टी आना,सिर दर्द होना, पेट मे दर्द, पेट मे गैस बनना, ठंड लगना, नीद नहीं आना, बार -बार दस्त लगना आदि।

Automobile Full Forms
Banking Full Forms
Courses Form
Defence Full Form
Exam Full Forms
 Finance Full Forms
Gadgets Full Forms
General Full Forms
Internet Full Forms
IT Full Forms
 Medical Full Forms
Organization Full Form
Political Full Forms
Technology Full Forms
Telecom Full Forms

Leave a Comment

Don`t copy text!