राजस्थान के मुख्यमंत्री की सैलरी कितनी है

हर राज्य में एक मुख्यमंत्री पद का चुनाव होता है। मुख्यमंत्री को 5 साल के लिए चुना जाता है। मुख्यमंत्री पद का चयन विधानसभा चुनाव में विधायकों की संख्या के आधार पर होता है। जिस पार्टी के विधायक सबसे अधिक होते हैं। उस पार्टी का मुख्यमंत्री 5 साल के लिए चुना जाता है। इसी प्रकार राजस्थान में साल 2018 में हुए चुनाव के आधार पर अशोक गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री पद पर कार्यरत व्यक्ति राजस्थान का संपूर्ण कार्यभार संभालते हैं। राजनीतिक तौर पर देखा जाए तो राज्य का दूसरा सबसे बड़ा पद मुख्यमंत्री का होता है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से राजस्थान के मुख्यमंत्री को कितनी सैलरी मिलती है , Rajasthan Chief Minister Salary , राजस्थान के मुख्यमंत्री की सैलरी कितनी है , Cm Ashok Gahlot Salary , अशोक गहलोत की तनख्वाह , Rajasthan Cm Salary 2020  इसके बारे में बात करेंगे। राजस्थान के मुख्यमंत्री की सैलरी कितनी है , rajasthan cm ki salary , राजस्थान के मुख्यमंत्री का वेतन rajasthan cm salary mukhyamantri ka salary kitna hai cm ki salary kitni hai

राजस्थान के मुख्यमंत्री के कार्य ( Rajasthan CM Job Profile )  :- 

1. राजस्थान के वर्तमान समय में मुख्यमंत्री श्रीमान अशोक गहलोत है। अशोक गहलोत कांग्रेस पार्टी से है और साल 2018 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान मुख्यमंत्री पद पर अशोक गहलोत को चुना गया।

2. राजस्थान के मुख्यमंत्री पद पर कार्यरत राज्य के विकास संबंधित हर प्रकार के कार्य को संपन्न करता है।

3. मुख्यमंत्री पद पर कार्य करने वाले व्यक्ति को राजस्थान राज्य के विकास से संबंधित जैसे:- सड़क निर्माण, बिजली से संबंधित कार्य, पानी सप्लाई, गैस कनेक्शन अन्य अलग-अलग क्षेत्रों में सभी कार्यों जनता के हित में करने पड़ते हैं।

4. मुख्यमंत्री पद पर नियुक्त होने वाले व्यक्ति को शपथ राज्यपाल द्वारा दिलाई जाती है। क्योंकि राज्यपाल राज्य का सबसे बड़ा पद होता है।

5. राज्य का मुख्यमंत्री विधानसभा का मुखिया होता है और विधानसभा मैं कई प्रकार की बैठक और कमेटी बनाने का अधिकार राजस्थान के मुख्यमंत्री को है।

6. राजस्थान राज्य में बनने वाले नए कानून मुख्यमंत्री और राजस्थान के गृहमंत्री द्वारा विधानसभा में लाए जाते हैं और विधानसभा में विधानसभा सदस्य द्वारा उस बिल को पास किया जाता है। उसके पश्चात राज्यपाल उस बिल को पास करके राज्य में लागू करते हैं।

7. राज्य सरकार द्वारा देश के लोगों को कई प्रकार की आर्थिक सहायता और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए अलग-अलग योजना चलाते हैं।

8. राजस्थान राज्य में मुख्यमंत्री कोष से कई प्रकार के विकास कार्य राज्य में संपन्न करवाए जाते हैं। जैसे इस बार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शपथ लेने के पश्चात राजस्थान में सात नए मेडिकल कॉलेज बनाने की घोषणा की है।

9. राजस्थान राज्य के वित्त मंत्री द्वारा राजस्थान का बजट पेश किया जाता है और उसी बजट के आधार पर राजस्थान का मुख्यमंत्री राजस्थान के विकास कार्य को संपन्न करवाता है।

10. किसी भी राज्य का सबसे बड़ा पद राज्यपाल का होता है। लेकिन सबसे अधिक शक्तियां मुख्यमंत्री के पास होती है। ऐसा कहा चाहे तो राज्य का मुख्यमंत्री देश के प्रधानमंत्री के समान होता है।

11. राजस्थान राज्य का मुख्यमंत्री राज्य के हित में कई प्रकार के निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं। लेकिन मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए विशेष निर्णय का विरोध विधानसभा में नहीं होना चाहिए, तभी वह स्वतंत्र रूप से निर्णय ले सकता है।

राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री की सैलरी ( Cm Ashok Gahlot Salary ) :-  राजस्थान राज्य का मुख्यमंत्री राज्य का विकास कार्य मैं अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री पद पर कार्यरत व्यक्ति विकास संबंधित सभी कार्य प्रकार के कार्य को संपन्न करता है और कई प्रकार की नई योजना भी चलाता है। राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री की सैलरी सातवें वेतन आयोग के पश्चात ₹75000 प्रति महीना निर्धारित की गई है। इसके अलावा राजस्थान के मुख्यमंत्री के बहुत सारे भते होते हैं यानी कुल मिलाकर राजस्थान की सीएम अशोक गहलोत की Rs 100000 से Rs 200000 बीच में सैलरी होती है इसके हालांकि अलग-अलग राज्यों में मुख्यमंत्री पद पर कार्यरत व्यक्ति की सैलरी अलग-अलग होती है।

इस आलेख को इंग्लिश पढ़े :- Salary of President of India
सभी प्रकार को जॉब्स की सलेरी देखे 

Leave a Comment

Don`t copy text!