विकलांग प्रमाण पत्र कैसे बनवाये

शारीरिक रूप से कोई भी व्यक्ति अपने जीवन काल में विकलांग नहीं होना चाहता। परंतु जीवन में कुछ ऐसी घटनाएं हो जाती है। ।जिससे हमारे शरीर के किसी अंग पर विशेष रूप से आघात पहुंचता है और व्यक्ति विकलांगता का शिकार हो जाता है। वहीं दूसरी ओर कुछ बच्चों में विकलांगता जन्म से ही होती है ।अब ऐसे भी शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को युवा होने पर बहुत सी चुनौतियां का सामना करना पड़ता है। जिससे कि कभी-कभी वह निराशा का शिकार हो जाते हैं और अपने जीवन को श्रापित समझते हैं ।ऐसे में विकलांग प्रमाण पत्र उन्हें सरकार के माध्यम से विभिन्न प्रकार की छूट प्रदान करता है जो कि उनके लिए  काफी हद तक सहायक है। Vikalang certificates के माध्यम से शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को कदम कदम पर कुछ छूट दी जाती है। जिससे उन का भरण पोषण होता रहे ,और वह एक अच्छा जीवन यापन कर सके ।वह हीनता के शिकार ना हो।विकलांग प्रमाण पत्र राजस्थान download , विकलांग प्रमाण पत्र फार्म pdf rajasthan , viklang certificate form rajasthan pdf , विकलांगता प्रमाण पत्र राजस्थान ,विकलांग प्रमाण पत्र राजस्थान download pdf, viklang praman patra form pdf rajasthan

 कब पारित किया गया विकलांगता संबंधी सरकारी प्रावधान (When was the government provision related to disability passed) :- 1955 में भारतीय संसद में दिव्यांग और अक्षमता के शिकार के लिए एक कानून पारित किया। इसके अनुसार दिव्यांग लोगों को सरकार के माध्यम से मान्यता दी जाएगी और इसके साथ ही इन्हें कुछ विशेष अधिकार जैसे कि छूट दी जाएगी। इस कानून के अंतर्गत विकलांगता की श्रेणी में मनोवैज्ञानिक एवं क्षमता का भी समावेश होगा । वैसे तो  सिर्फ विकलांग व्यक्ति के लिए कार्य करेंगे जो किसी विशेष क्षमता से 40% या उससे ज्यादा पीड़ित हैं ।।उन्हें इसी के आधार पर डिसेबिलिटी सर्टिफिकेट या नहीं विकलांग प्रमाण पत्र दिया जाएगा ।

विकलांग प्रमाणपत्र राजस्थान की पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria Of  Viklang Certificate Rajasthan) :-

1.) विकलांग प्रमाण पत्र बनवाना यह बेहद आवश्यक है कि व्यक्ति शारीरिक रूप से अक्षम हो।

2.) एक अन्य कारण और भी हो सकता है कि व्यक्ति को चोट लगने के कारण वह शारीरिक रूप से अक्षम हो जाए परंतु इसमें व्यक्ति को चोट लगे कम से कम 6 महीने हो चुके हो।

3.) एक बात और जो विशेष तौर पर आवेदन करते समय व्यक्ति को ध्यान में रखना चाहिए यदि उसे चोट लगी है और डॉक्टरों के अनुसार व्यक्ति ठीक  6 महीने के भीतर ठीक हो सकता है ।तो ऐसे में डॉक्टर द्वारा लिखे जाने यानी प्रमाणित किए जाने के बाद भी व्यक्ति का Viklang Praman Patra बन सकेगा।

4.) सामान्य तौर पर देखा गया है कि कुछ बच्चे जन्म से ही विकलांग होते हैं, ऐसे में वह कभी भी विकलांग प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकते हैं।

5.) विकलांग प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए आपको अपने शहर के सिविल हॉस्पिटल में जाकर अपनी कुछ की जांच करानी होगी। उसके बाद ही कहीं आपको विकलांगता प्रमाण पत्र प्राप्त होगा

6.) विकलांग प्रमाण पत्र हेतु आवेदन करने के बाद उसे संबंधित अधिकारी को सौंप दें ।इसके आगे की प्रक्रिया में व्यक्ति को विकलांग प्रमाण पत्र के लिए मेडिकल टेस्ट कराना होगा ।

7.) अभी तक की विकलांगता की जांच करने के लिए डॉक्टरों की टीम गठित की जाएगी और व्यक्ति की पूरे अंगों की यानी पूरे शरीर की जांच की जायेगी।

8.) डॉक्टरों की टीम जो तैयार होगी उसमें शामिल होंगे ईएनटी सर्जन,आई सर्जन, मानसिक चिकित्सालय के डॉक्टर,आर्थोपेडिक सर्जन,के अतिरिक्त फिजिशियन होंगे।

9.) डॉक्टरों की टीम आपके शरीर की भली भांति जांच करेंगे उसके बाद आपका विकलांग प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा

10.) आपको यह जानकर हैरानी होगी कि व्यक्ति में विकलांगता का अलग-अलग प्रकार की होती है। उसे प्रतिशत में निर्धारित किया जाता है। यह डॉक्टरों के द्वारा विचार विमर्श कर विकलांगता का प्रतिशत तैयार किया जाता है।

महत्त्वपूर्ण तथ्य( Important facts) :- अगर आप भी किसी प्रकार से विशेष क्षमता से 40 फ़ीसदी या उससे अधिक विकलांगता के शिकार है  ।तो ऐसे में आपको निश्चित रूप से Disability certificate/ विकलांग प्रमाण पत्र के लिए जरूर आवेदन कर दे ।

विकलांग प्रमाण पत्र से मिलने वाले लाभ (Disabled certificate benefits) :-

1.) विकलांग प्रमाण पत्र शारीरिक अक्षम लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है क्योंकि इसके होने से व्यक्ति को विकलांग योजनाएं का लाभ सीधे तौर पर प्राप्त हो जाता है।

 2.) शारीरिक रूप से अक्षम व्यक्ति को वैसे तो विभिन्न प्रकार लाभ प्रदान किए जाते हैं ।उनमें रोडवेज बस ट्रेन के अतिरिक्त अन्य प्रकार के परिवहन साधनों में भी विकलांगता प्रतिशत के मुताबिक आप सूट आपको छूट दी जाएगी।

3.) Viklang praman Patra होने पर व्यक्ति को आरक्षण भी प्राप्त होता है ।जिससे उसके सरकारी नौकरी कुछ छूट मिलती है।

4.) शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्ति को40 % नि:शक्त 50 % किराए में छूट का प्रावधान इसके अलावा अटेंडेंट फ्री प्राप्त होगी।

5. ) वहीं  50 % विकलांग प्रतिभागी को नि:शक्त 50 % किराए में छूट  का प्रावधान अतिरिक्त अटेंडेंट फ्री की सुविधा प्रदान की जाएगी

 

 विकलांग प्रमाण पत्र के लिए आवेदन से पूर्व रखे इन दस्तावेजों को तैयार(These documents prepared before applying for disabled certificate are ready) :-

  1. आवेदक के पास आधार कार्ड के साथ ही वोटर आईडी कार्ड होना चाहिए।

  2. राशन कार्ड के अतिरिक्त स्थाई प्रमाण पत्र होना चाहिए।

  3. इसके अलावा आवेदक के पास बोनाफाइड प्रमाण पत्र होना चाहिए।

  4. आवेदक की आयु को प्रमाणित करने के लिए आयु प्रमाण पत्र भी साथ में रखे।

  5. शारीरिक रूप से अक्षम आवेदक अपने अंग विकलांगता की दो फोटो भी साथ रखनी चाहिए।

  6. चेहरे की पासपोर्ट साइज फोटो भी साथ रखें।

 विकलांग प्रमाण पत्र के लिए आवेदक को online apply कैसे करे (How to apply online for the disabled certificate applicant ) :-

1.आवेदक को ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए सर्वप्रथम इसकी  ऑफिशियल वेबसाइट e-sathi पर विजिट करना होगा।

 2.इसके आगे की प्रक्रिया में आपको सिटीजन लॉगइन करना होगा।

 3.इसके आगे आपको लॉग इन करने के बाद आपके सामने एक पेज ओपन होगा ।जहां पर आपको आवेदन करने के लिए बोला जाएगा।

4.अब आपको आवेदन पर क्लिक करते हुए ,अपने दिव्यांग प्रमाण पत्र यानी विकलांग प्रमाण पत्र पर क्लिक करना पड़ेगा।

5.क्लिक करते ही आपके सामने एक फॉर्म ओपन होगा आपको इसको भली-भांति पढ़कर मांगी गई जानकारी भरनी होगी।

 6.आप आवेदन पत्र में देखेंगे कि इसमें आपको अपने पिता का नाम, आयु, मोबाइल नंबर के अतिरिक्त अन्य जानकारियां सावधानीपूर्वक भरना होगा।

7.इस तरह से आप ऑनलाइन विकलांग प्रमाण पत्र का फॉर्म की प्रक्रिया हुई।यह प्रमाण पत्र आपको 14 दिनों के भीतर ही जारी कर दिया जाएगा और आप बहुत ही सहस तरीके से इसी वेबसाइट पर लॉगइन करके डाउनलोड के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

 

इस आलेख को इंलिश में पढ़े :- Rajasthan Caste Certificate Form PDF

Birth Certificate Rajasthan Apply Here
जन्म प्रमाण पत्र फार्म राजस्थान PDF
राजस्थान जन्म प्रमाण पत्र डाउनलोड करे
सभी प्रकार की सरकारी योजना देखे

Leave a Comment

Don`t copy text!