Career After 12th Commerce

Career After 12th Commerce: शिक्षा के क्षेत्र में व्यक्ति हर प्रकार से अपना रास्ता चुन सकता है। लेकिन ज्यादातर विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा पास करने के बाद मन में Confused घूमता है, कि अब आगे हमें क्या करना चाहिए? लेकिन जो विद्यार्थी 11वीं कक्षा में सब्जेक्ट का चयन करते हैं। उन लोगों को Subject का चयन करते समय लक्ष्य का निर्धारण कर लेना चाहिए। ताकि आप उसी लक्ष्य को पाने के लिए 11वीं और 12वीं कक्षा में Subject का चयन कर सके और भविष्य में भी उन्हीं Subject से संबंधित आप अपने पढ़ाई को Continue रख सकें। लेकिन जिन लोगों को इसके बारे में जानकारी नहीं है। उन लोगों के लिए यह आर्टिकल काफी Interesting होने वाला है। how to become an ips officer after 12th commerce in hindi बैंकिंग के लिए 12 वीं कॉमर्स के बाद क्या करना है 12वीं के बाद कॉमर्स में करियर

Career After 12th Commerce: 12वीं कक्षा जब विद्यार्थी पास कर लेता है। तो विद्यार्थी के मन में बहुत सारे सवाल घूमने लगते हैं,कि अब 12वीं तो कर ली लेकिन आगे क्या करना होगा? इस प्रकार के सवाल यदि आपके मन में भी घूम रहे हैं। अब आपको बताना चाहूंगा,कि यदि आपने 12वीं कक्षा में वाणिज्य वर्ग का चयन किया है। तो आपके लिए आगे क्या करना होगा? इसके बारे में हम इस आर्टिकल में सम्पूर्ण जानकारी नीचे दी गई हैं।

वाणिज्य वर्ग का चयन करने के पश्चात आपको क्या करना होता है। इसकी जानकारी इस आर्टिकल में आपको देखने को मिलेगी यदि आप 12वीं कक्षा में वाणिज्य वर्ग का चयन कर चुके हैं और अब भविष्य में क्या करना है? इसके बारे में जानकारी लेना चाहते हैं। तो आपके लिए यह आर्टिकल उचित रहेगा और इस आर्टिकल को अंत तक पढें। इस आर्टिकल में आपको Career After 12th Commerce हिंदी टिप्स के बारे में जानकारी मिलेगी। आज का आर्टिकल जिसमें हम Career After 12th Commerce के बारे में बात करने वाले हैं। चलिए शुरू करते हैं।

Career After 12th Commerce

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा में वाणिज्य वर्ग का चयन कर चुका है। उन विद्यार्थियों के लिए भविष्य को सफल बनाने में कौन-कौन से ऑप्शन होते हैं? उसकी जानकारी नीचे निम्नलिखित रुप से दी गई है।

1. Chartered Accountant (CA)

Career After 12th Commerce: ज्यादातर विद्यार्थी 12वीं कक्षा में वाणिज्य वर्ग का चयन इसलिए करते हैं, क्योंकि उन लोगों की भविष्य का सपना चार्टर्ड अकाउंटेंट बन्ना होता है। हालांकि CA बनना बहुत ही मुश्किल है और यह पद हासिल करने के लिए व्यक्ति को जी जान से मेहनत करनी होती है। कोई भी काम नामुमकिन नहीं है। लेकिन कई काम है, कहीं जिनको करने के लिए बहुत अधिक मेहनत की आवश्यकता होती है। ऐसा ही यह काम चार्टर्ड अकाउंटेंट बनना है। CA बनने के लिए आपको बहुत अधिक मेहनत करनी होती है। इसके अलावा जो विद्यार्थी दसवीं कक्षा में है। तब से विद्यार्थी को इस लक्ष्य से साथ-साथ अपनी तैयारी को कवर करना होगा। अन्यथा विद्यार्थी अपने सपने को साकार नहीं कर पाएगा। यदि आप चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए इच्छुक हैं। तो दसवीं कक्षा के साथ ही भविष्य में होने वाले इंटरेस्ट एग्जाम की तैयारी करना शुरू कर दें।

चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए आपको सबसे पहले एक इंटरेस्ट एग्जाम देना होता है। उस इंटरेस्ट एग्जाम में पास होने के पश्चात चार्टर्ड अकाउंटेंट डिग्री के लिए आपको कॉलेज उपलब्ध कराया जाता है। यह Course साढे 4 वर्ष का होता है। जो विद्यार्थी चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने का सपना देख रहे हैं। उन विद्यार्थियों के लिए दो ऑप्शन होते हैं। दसवीं कक्षा के पश्चात विद्यार्थी CPT में अपना आवेदन लगाकर आगे सीए की पढ़ाई कर सकता है। इसके अलावा जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा के पश्चात सीए की तैयारी करना चाहता है। तो उस विद्यार्थी को CS इंटरेस्ट एग्जाम देना होगा। इस एग्जाम को पास करने के पश्चात सीए के लिए कोष उपलब्ध करवाया जाएगा।

जो भी चढ़ती चार्टर्ड अकाउंटेंट बन जाता है। उस विद्यार्थी के भविष्य में किसी बात की कमी रहने की कोई गुंजाइश भी नहीं रहती है। क्योंकि चार्टर्ड अकाउंटेंट प्रति महीना मिली 4 से ₹500000 आसानी से कमा लेता है। इसके अलावा सरकारीनौकरिया भी CA को लेकर बहुत निकाली जाती है। उम्मीदवार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में निकलने वाली भर्ती में अपना आग लगाकर नौकरी प्राप्त कर सकता है। लेकिन जो उम्मीदवार चार्टर्ड अकाउंटेंट बन जाता है। उस व्यक्ति को सरकारी नौकरी लेने से अच्छा प्राइवेट सेक्टर रहता है। क्योंकि प्राइवेट सेक्टर में इस पद पर कार्य करने वाले व्यक्ति को अनलिमिटेड पैसा कमाने का अवसर रहता है।

 

2.B.Com

कॉमर्स सब्जेक्ट का चयन विद्यार्थी इसलिए करते हैं। ताकि वह भविष्य में अच्छी पोस्ट हासिल कर सके। जिसे CA व चार्टर्ड अकाउंटेंट के नाम से जाना जाता है। यह काफी रिस्पेक्टफुल और ऊंचा नाम है। इस नाम को पाने के लिए व्यक्ति को बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ती है। जो लोग 12वीं कक्षा वाणिज्य वर्ग से उत्तीर्ण कर चुके हैं। उन लोगों को भविष्य में सीए की पढ़ाई करने से पहले बैचलर ऑफ कॉमर्स की डिग्री लेनी होती है। बैचलर ऑफ कॉमर्स एकाउंटिंग बेस कौन है। यह कोर्स 3 वर्ष का होता है। यह कोर्स करने के पश्चात आपको रिजर्वेशन की डिग्री दी जाएगी। यह Degree लेने के पश्चात Teacher की भर्ती में आवेदन लगा सकते हैं।

3. Cast and Work Accountant (CWA)

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं और भविष्य में उन लोगों को CA के जैसा Course करना है। तो उन लोगों के लिए CWA कॉर्स करने का एक बेहतरीन मौका होता है। भारत में बहुत सारे विश्वविद्यालय है। जिनके माध्यम से आप इस Course को कर सकते हैं। कास्ट अकाउंटेंट कोर्स करने के पश्चात आपके भविष्य में सैलेरी पैकेज और जॉब मिलने के चांसेस बढ़ जाते हैं। क्योंकि इस पोस्ट को बहुत कम लोग करते हैं। परंतु यदि आप इस Course कर लेते हैं। तो आपको भविष्य में वितीय विभाग में सरकार द्वारा निकाली गई, भर्तियों में अपना आवेदन लगाने का मौका मिलेगा। इसके अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी आप काम कर सकता है।

4. BBI

बैचलर ऑफ कॉमर्स इन बैंकिंग और इंश्योरेंस के बारे में आपने नाम सुना होगा। इसका शॉर्ट फॉर्म BBI है। BBI डिग्री जिसे 12वीं कक्षा पूरी करने के पश्चात वाणिज्य वर्ग के विद्यार्थी लेते हैं। इस डिग्री को लेने के लिए वाणिज्य वर्ग के विद्यार्थी काफी इच्छुक भी रहते हैं। BBI की डिग्री 3 साल की होती है और इस साल की डिग्री में आपको 6 सेमेस्टर पढ़ाए जाते हैं। 6 सेमेस्टर में आपको अकैडमी और प्रोफेशनल दोनों तरह कैसे ट्रेनिंग दी जाती है। बैचलर ऑफ कॉमर्स इन बेकिंग और इंश्योरेंस की डिग्री के तहत आपको अकाउंटिंग इंश्योरेंस के Rule & Low, बैंकिंग नियम और इंश्योरेंस रिस्क कवर से संबंधित संपूर्ण ट्रेनिंग दी जाती है। यह डिग्री लेने के पश्चात आप बैंक मैनेजर और अन्य बैंक अधिकारियों की भर्तियां जो निकाली जाती है। उसमें अपना आवेदन लगा सकते हैं, इसके अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी आप इस डिग्री को लेने के पश्चात नौकरी कर सकते हैं। इस डिग्री के पश्चात आपकी सैलरी में अच्छी-खासी बढ़ोतरी हो जाएगी।

5. Bachelor of Commerce in Financial Marketing

वाणिज्य वर्ग का मतलब लेखा-जोखा रखा होता है और फाइनेंस मार्केटिंग को लेकर 12वीं करने के पश्चात लोगों को बेहतरीन ऑप्शन उपलब्ध कराया जाता है। इस डिग्री जिसे बीकॉम फाइनेंस मार्केटिंग कहते हैं। यह डिग्री विद्यार्थी 12वीं कक्षा कॉमर्स से बात करने के पश्चात ले सकता है। इस डिग्री को लेने के पश्चात विद्यार्थी के लिए फाइनेंस इन मार्केटिंग क्षेत्र में नौकरी के चांसेस बढ़ जाते हैं। यह 3 वर्ष की डिग्री होती है। इस 3 वर्षीय डिग्री में है। आपको 41 सब्जेक्ट के बारे में जानकारी प्रदान कराई जाएगी और उसी के आधार पर आप फाइनैंशल मार्केटिंग एक्सपर्ट बन जाएंगे और भविष्य में फाइनेंस सेल मार्केटिंग सेक्टरों में आपको अच्छी खासी जॉब भी मिल जाएगी। इसके अलावा फाइनेंसियल मार्केटिंग को लेकर सरकार द्वारा निकाली गई सरकारी भर्तियों में भी आप अपना आवेदन देकर अपने भविष्य को संवार सकते हैं।

 

6. Bachelor of Accounting and Finance

12वीं कक्षा में जिन विद्यार्थियों ने वाणिज्य वर्ग का चयन किया है और वर्तमान समय में विद्यार्थी 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुका है। तो उस विद्यार्थी के लिए बैचलर इन अकाउंटिंग एंड फाइनेंस की 1 डिग्री उपलब्ध होती है। इस डिग्री को लेने के पश्चात विद्यार्थी फाइनेंस कंपनियों में अच्छी खासी जॉब पा सकता है। बैचलर ऑफ अकाउंटिंग एंड फाइनेंस की यह डिग्री 3 वर्ष की होती है। इस 3 वर्षीय डिग्री को पूरा करने के पश्चात आपको LIC जैसी इंश्योरेंस कंपनी में नौकरी करने का मौका मिल सकता है। इसके अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी आप नौकरी कर सकते है।

7. BBA (Bachelor Of Business Administration)

जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा में कॉमर्स वर्ग ले चुके हैं और अब उन्हें भविष्य में क्या करना चाहिए उनके लिए एक बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री लेना सुनहरा अवसर रहेगा इस डिग्री में आपको मार्केटिंग फाइनेंस इंटरनेशनल बिजनेस ह्यूमन रिसोर्स के बारे में जानकारी दी जाएगी और यह डिग्री लेने के बाद आप भविष्य में कहीं पर भी अच्छी खासी नौकरी पा सकते हैं। यह डिग्री 3 साल की होती है और इस डिग्री में 6 सेमेस्टर पढ़ाए जाते हैं।

Diploma Course After 12th Commerce

विद्यार्थियों के लिए 12 वीं कक्षा के पश्चात अन्य दलों के साथ-साथ कई प्रकार के डिप्लोमा कोर्स भी उपलब्ध कराए जाते हैं। जो मुख्य रूप से 12वीं कक्षा वाणिज्य वर्ग से पास कर चुके विद्यार्थियों के लिए है। 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात वाणिज्य वर्ग के विद्यार्थियों के पास कौनसा डिप्लोमा करने का अवसर रहता है। इसकी जानकारी नीचे दी गई है।

  • Diploma In Finance Accountancy
  • Diploma In Industrial Safety
  • Diploma In Retail Management
  • Diploma In Physical Education
  • Diploma in Hotel Management
  • Diploma In Yoga
  • Diploma In Fashion Designing
  • Diploma in Computer Application

Read Also:- UPSC NDA Salary, NDA Job Career Growth And Allowance

Conclusion

Career After 12th Commerce जब विद्यार्थी दसवीं कक्षा में होता है। तब से विद्यार्थी को अपने भविष्य को लेकर चिंता हो जाती है और व्यक्ति दसवीं कक्षा के पश्चात अपनी रूचि के अनुसार 11वीं और 12वीं कक्षा में सब्जेक्ट वर्ग का चयन करता है। परंतु 12वी कक्षा पास करने के बाद एक बार फिर व्यक्ति जंजाल में फंस जाता है,कि अब मुझे क्या करना चाहिए? लेकिन आज मैं जिन विद्यार्थियों ने 12 वीं कक्षा वाणिज्य वर्ग के पास की है।

उन लोगों को Career After 12th Commerce के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है। मैंने इस आर्टिकल में आपको कॉमर्स से 12वीं करने के बाद आपको क्या करना चाहिए और किस प्रकार से आप अपने भविष्य में Grow कर सकते हैं। इसके बारे में जानकारी आप तक पहुंचाई है। उम्मीद करता हूं, कि मेरे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से संबंधित कोई सवाल है। तो वह मुझे कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकता है।

Subject Wise Notes PDF
Subject Wise MCQ PDF
Exam Wise Notes PDF
Exam Wise MCQ PDF

Leave a Comment

Don`t copy text!