High Courts Judges Salary

High Courts Judges Salary :- भारत के संविधान के अनुसार हर राज्य में एक उच्च न्यायालय बनाया गया है। उच्च न्यायालय में मुख्य न्यायाधीशों के साथ-साथ कई देशों को भी नियुक्त किया गया है। क्योंकि हर रोज कई सारे मुकदमे दर्ज होते हैं उनकी सुनवाई करने के लिए न्यायधीश को नियुक्त किया जाता है। न्यायधीश को राज्यपाल द्वारा नियुक्त किया जाता है। भारत में न्यायाधीशों की नियुक्ति संविधान के अनुच्छेद 214 के अंतर्गत की जाती है।

भारत की उच्च न्यायालय में कार्यरत न्यायधीश पद में मुख्य न्यायाधीश से नीचे होते हैं और न्यायिक क्षेत्र के हर प्रकार के कार्यों को संपन्न करते हैं। उच्च न्यायालय में दर्ज हुए कई प्रकार के मुकदमों की सुनवाई न्यायाधीश द्वारा की जाती है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से Judges of High Courts के बारे में बात करेंगे और भारत में Judges of High Courts को कितनी सैलरी मिलती है, इसका भी जिक्र करेंगें।

Judges of High Courts :-

  • भारत के हर राज्य में उच्च न्यायालय मैं न्याय करने के लिए न्यायाधीशों को नियुक्त किया जाता है और उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की नियुक्ति राज्यपाल द्वारा होती है।
  • उच्च न्यायालय के न्यायाधीश बनने के लिए व्यक्ति के पास राज्य के किसी भी न्यायालय से न्याय क्षेत्र में कम से कम 10 साल का अनुभव होना जरूरी है।
  • जो व्यक्ति उच्च न्यायालय का न्यायधीश बनना चाहता है वह भारत का नागरिक होना जरूरी है साथ ही न्यूनतम उम्र 25 वर्ष होना जरूरी है। भारतीय संविधान के अनुसार उच्च न्यायालय में न्यायाधीश के पद पर कार्यरत व्यक्ति 62 वर्ष की उम्र तक न्याय सेवा प्रदान कर सकता है।
  • उच्च न्यायालय के न्यायाधीश कई प्रकार के मुकदमें जैसे लड़ाई,मर्डर,जमीन,विवाद,चोरी इत्यादि से संबंधित मुकदमा पर सुनवाई करते हैं। इसके अलावा महिलाओं पर होने वाले कई प्रकार के अत्याचार से संबंधित मुकदमों की सुनवाई भी न्यायाधीश द्वारा ही की जाती है।
  • उच्च न्यायालय में न्यायाधीश पद पर कार्यरत व्यक्ति मुकदमों की सुनवाई करने के साथ-साथ जज और मजिस्ट्रेट के कार्यों की रिपोर्ट का विवरण भी देखते हैं।
  • न्यायाधीश पद पर जो व्यक्ति कार्यरत होता है। उससे नीचे न्याय के क्षेत्र में कई जज और मजिस्ट्रेट होते हैं। जो छोटे-छोटे मामलों को निपटाने के लिए लगे होते हैं। उन सभी की रिपोर्ट न्यायधीश द्वारा संचालित की जाती है। कई ऐसे मामलों में जज और मजिस्ट्रेट द्वारा कि गई सुनवाई से संतुष्ट ना होने पर कोई भी पार्टी उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के पास जा सकती हैं।

High Courts Judges Salary :-
भारत में उच्च न्यायालय में न्यायाधीश को नियुक्त किया जाता है। उच्च न्यायालय में न्याय के क्षेत्र में न्यायधीश का दूसरा सबसे बड़ा पद होता है। इसीलिए न्यायाधीश पद पर कार्यरत व्यक्ति की सैलरी अच्छी होती है। लेकिन मुख्य न्यायाधीश से कम होती है। साल 2016 में पूरे भारतवर्ष में सातवें वेतन आयोग के जारी होने के पश्चात भारत के Judges of High Courts की सैलरी ₹225,000 प्रति महीना है।

सभी प्रकार को जॉब्स की सलेरी देखे 

Leave a Comment

Don`t copy text!