कॉलेज लेक्चरर सैलरी इन राजस्थान | RPSC College Lecturer Salary

कॉलेज लेक्चरर सैलरी इन राजस्थान , कॉलेज लेक्चरर ग्रेड पे इन राजस्थान , Rpsc College Lecturer Salary , College Lecturer Salary in Rajasthan , कॉलेज प्रोफेसर सैलरी, College Lecturer Salary in Rajasthan , Govt College Lecturer Pay Scale in Rajasthan , लेक्चरर की सैलरी , Rajasthan College Lecturer Salary , College Lecturer Grade Pay in Rajasthan , स्कूल लेक्चरर सैलरी इन राजस्थान  , Govt College Lecturer Salary in Rajasthan , College Lecturer Ki Salary Kitni Hoti Hai

पढ़ाई जिंदगी के लिए सबसे महत्वपूर्ण और जरूरी हिस्सा बन चुका है। सभी लोग पढ़ाई करके कुछ न कुछ हासिल करना चाहते हैं। यह अपने जीवन में किसी भी पोस्ट पर जॉब करना चाहते हैं। जो लोग पढ़ाई में बहुत ज्यादा इंटरेस्टेड है और आगे जाकर अध्यापन कार्य करना चाहता है।तो ऐसे में व्यक्ति कॉलेज लेक्चरर भी बन सकता है। कॉलेज लेक्चरर बनने के लिए कई प्रकार की योग्यता होनी अनिवार्य है।
राजस्थान कॉलेज लेक्चरर के लिए सामान्य जानकारी:-  कॉलेज में लेक्चरर के पद पर किसी भी विषय को लेकर विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए उस विषय में आपके पास मास्टर डिग्री और साथ ही पीएचडी होना अनिवार्य है। जब आप उस सब्जेक्ट की डॉक्टरी कर लेते हैं। तो आपको कॉलेज में पढ़ाने के लायक माना जाता है और पीएचडी की डिग्री हासिल करने के पश्चात ही व्यक्ति लेक्चरर बन सकता है।
राजस्थान में लेक्चरर पद के लिए सरकार द्वारा भर्ती निकाली जाती है। राजस्थान में इस पद की परीक्षाएं राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा करवाई जाती है। यह पद शिक्षा विभाग के अंतर्गत आता है और इसीलिए राजस्थान लोक सेवा आयोग ज्योतिष शिक्षा विभाग के अंतर्गत है। यही विभाग लेक्चरर के लिए बचा निकलता है और परीक्षाएं करवाता है।
राजस्थान कॉलेज लेक्चरर नौकरी प्रोफाइल:- 
1. यह राजस्थान के कॉलेजों में व्याख्याता के तौर पर पढ़ाने वाले शिक्षकों का पद है।
2. लेक्चरर पद पर मुख्य कार्य एक  व्याख्याता कर्तव्य निभाते हुए कॉलेज के विद्यार्थियों को पढ़ाना होता है।
3. राजस्थान कॉलेज में ग्रेजुएशन की डिग्री लेने वाले छात्रों को लेक्चरर ही पढ़ाते हैं।
4. लेक्चरर का काम पढ़ाने के अलावा अन्य कई जिम्मेदारियों को संभालना भी होता है।
5. कॉलेज के लेक्चरर को कॉलेज के कई मुख्य मुद्दों पर सलाह करने तथा सुझाव देने का ही काम सौंपा जाता है।
6. लेक्चर आपको कई प्रकार के अनुसंधान भी करने होते हैं।
7. छात्रों की निगरानी रखना तथा छात्रों का रिकॉर्ड रखना भी कॉलेज लेक्चरर का ही काम होता है
8. कॉलेज के सभी कार्य एक लेक्चरर द्वारा ही  कराए जाते हैं।
9. छात्रों की उपस्थिति रिकॉर्ड भी कॉलेज लेक्चरर ही रखते हैं। कई कॉलेजों में हर क्लास में छात्रों की उपस्थिति की पुष्टि होती है।
10. लेक्चरर पद सिर्फ महाविद्यालय और विश्वविद्यालय नहीं होता है। यहां पर विद्यार्थियों को ग्रेजुएशन डिग्री दी जाती है।
कॉलेज लेक्चरर सैलरी इन राजस्थान (Rajasthan College Lecturer Salary ):-  राजस्थान के किसी भी कॉलेज में पढ़ाने वाले लेक्चरर की सैलरी काफी अच्छी होती है। कॉलेज में पढ़ाने वाले लेक्चरर की सैलरी 37400 से लेकर 67000 के बीच मिलती है और उसके पश्चात प्रमोशन पर सैलरी बढ़ती जाती है। असिस्टेंट लेक्चरर की सैलरी 15600 से 39000  के बीच रहती है।
सातवें वेतन आयोग के पश्चात कितनी बढ़ेगी कॉलेज लेक्चरर की सैलरी:-  राजस्थान कॉलेज लेक्चरर की सैलरी सातवें वेतन आयोग के पश्चात काफी बढ़ सकती है। सातवें वेतन आयोग के पश्चात कॉलेज लेक्चरर की सैलरी 104000 से 150000 तक हो सकती है। वहीं असिस्टेंट लेक्चरर की सैलरी 42000 से 64000 तक हो सकती है।
राजस्थान कॉलेज लेक्चरर बनने के लिए जरूरी योग्यता:- जो भी व्यक्ति राजस्थान कॉलेज के लिए लेक्चरर बनना चाहता है। उनको निम्नलिखित शिक्षण योग्यता की आवश्यकता होती है। उसी के पश्चात व्यक्ति कॉलेज में पढ़ाने के लायक माना जाता है और लेक्चरर पद हासिल कर सकता है।
1. मनपसंद विषय से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करना अनिवार्य है।
2. मनपसंद विषय में ग्रेजुएशन पूरी होनी अनिवार्य है।
3. अंडर ग्रेजुएशन के विषयों में से किसी एक विषय में मास्टर डिग्री पूरी करना जरूरी होता है।
4. UGC NET( National Eligibility Test )
5.M.Phil(Master of Philosophy) या Ph.D करें।
इस आलेख को इंग्लिश पढ़े :- Rajasthan College Lecturer Salary
सभी प्रकार को जॉब्स की सलेरी देखे 

Leave a Comment

Don`t copy text!