Rajasthan Radiographer Salary Chart

radiographer salary in rajasthan radiologist salary in india radiographer salary radiographer grade pay in rajasthan Rajasthan Radiographer Salary Chart: मेडिकल फील्ड में डॉक्टर और नर्सों के अलावा भी बहुत से प्रोफेशन होते हैं। जिसमें एक मेडिकल स्टूडेंट्स अपना करियर बना सकता है। राजस्थान सरकार प्रत्येक वर्ष रेडियोग्राफर की वैकेंसी निकलती है। इसमें कोई भी छात्र जिसके पास बैचलर ऑफ रेडियोलॉजी की डिग्री है, और 21 वर्ष से लेकर 27 वर्ष की आयु का है वह आवेदन कर सकता है।
 RSMSSB राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड द्वारा राजस्थान रेडियोलॉजी की वेकेंसी निकाली जाती है। रेडियोग्राफर का काम मानव शरीर के अंदरूनी अंगो की जांच करके बीमारियों का पता लगाना होता है। राजस्थान सरकार RSMSSB द्वारा रेडियोग्राफी टेक्नीशियन का सिलेक्शन होता है। जैसे: राजस्थान सरकार अपने अन्य सरकारी विभागों के लिए प्रशिक्षित और उत्कृष्ट पदाधिकारियों और अफसरों का चयन करती, वैसे ही रेडियोलॉजिस्ट की भी नियुक्ति करता है।
राजस्थान सरकार प्रत्येक वर्ष लिखित परीक्षा के माध्यम से रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्तियां करती है। आज के आर्टिकल में हम राजस्थान रेडियोग्राफर सैलरी चार्ट, Rajasthan Radiographer Salary Chart,Rajasthan Radiographer Salary,Rajasthan Radiographer Salary In Hand, Rajasthan Radiographer Job Allowance, Rajasthan Radiographer Job Promotion इत्यादी के बारे मेंजानकारी देने वाले है।

Rajasthan Radiographer Salary:- राजस्थान सरकार के सरकारी अस्पतालों में पदस्थ रेडियोग्राफर कि 2 वर्ष का परिवीक्षा समय संपूर्ण होने के बाद उनको अठवे वेतन मान के अनुरूप 26300 रुपए प्रति महीने सैलरी दी जाती है जो कि न्यूनतम है। और वेतनमान के लेवल 8 के अनुसार उन्हें 26300 से ₹83500 प्रति महीने सैलरी देने का प्रावधान है। रेडियोग्राफर को राजस्थान सरकार द्वारा अन्य भत्ते दिए जाते हैं जो सभी सरकारी कर्मचारियों को राजस्थान सरकार द्वारा मिलते हैं और यह सभी उनके खाते में हर महीने उनकी सैलरी के साथ मिलते हैं। रेडियोग्राफर की सैलरी राजस्थान सरकार के नियम के तहत हर साल 3% बढ़ती रहती है।

 Rajasthan Radiographer Salary 

Category Amount
Basic Salary Rs. 26300-83500/-
CCA  3-5% of basic salary (675-2415)
DA 17% of  basic salary (3210-10400)
HRA 8 % of  basic salary ( 2500-7500)
Grade Pay 5400

 

Rajasthan Radiographer Salary Deduction

Category Amount
PF (10% of Basic) 2650-8350/-
NPS (10% of Basic+DA) 10400-12400/-
Income Tax As Per Govt. Norms

 

Total In Hand Salary after Deductions :-  Rs.41500-61500/- Per month (approx.)

Rajasthan Radiographer Salary in Hand:–  राजस्थान सरकार द्वारा सभी रेडियोग्राफर्स को सैलरी के साथ-साथ कुछ भत्ते भी दिए जाते हैं लेकिन उन भत्तों के साथ-साथ कुछ कटौती की जाती हैं। कटौती में एनपीएस शामिल है जो कि उनकी सैलरी का 10% होता है इसके अलावा एसआई भी उनके सैलरी से काट जाता है जो कि ₹700 होता है। और राजस्थान सरकार द्वारा लगाए गए टैक्स रेडियोग्राफर की सैलरी से हर महीने कट जाते है, इसके बाद जो राशि शेष बच जाती है वह रेडियोग्राफर के अकाउंट में हर महीने ट्रांसफर कर दी जाती है जिसे इन हैंड सैलेरी कहा जाता है।

Rajasthan radiographer Job profile:- रेडियोलॉजिस्ट का कार्य विभिन्न  प्रकार की चिक्सकीय मशीनों द्वारा मानव शरीर के अंदरूनी अंगों की जांच करके बीमारियों का पता लगाना होता है। आज के समय में नई नई बीमारियां मानव शरीर में पनप रही हैं और इन बीमारियों के इलाज के लिए और उनका पता लगाने के लिए नई नई मशीनें बनाई जा रही है इन मशीनों को ऑपरेट करने के लिए रेडियोग्राफर की आवश्यकता होती है। रेडियोग्राफी को दो भागों में विभाजित किया गया है। या ऐसा कह सकते हैं की रेडियोलॉजी दो भागो से मिल कर बना है। इसका पहला हिस्से को डायग्नोस्टिक रेडियोग्राफी कहा जाता है और दूसरे हिस्से को थैरेपीयूटिक रेडियोग्राफी कहा जाता है।

रेडियोग्राफी के अंतर्गत एक्सरे, फ्लोरोस्कॉपी, अल्ट्रासाउंड, सिटी स्कैन, मैग्नेटिक रिजोनेंस इमेजिंग, एंजियोग्राफी, पोस्टर ऑन इजेशन, टोमोग्राफी आते हैं। सभी सरकारी या प्राइवेट अस्पतालों में मानव शरीर के किसी भी अंग की जांच से संबंधित मशीनें होती हैं। जिनको ऑपरेटर की आवश्यकता होती है और इन मशीनों को ऑपरेट करने वाले को रेडियोग्राफर कहा जाता है। रेडियोग्राफर सभी मशीनों द्वारा मरीज के जारी किए गए आंकड़ों को डॉक्टर तक पहुंचाता है और डॉक्टर उनकी गणना करके बीमारी का पता लगाते हैं और उनका इलाज करते हैं।

Rajasthan radiographer Job promotion:- राजस्थान के सरकारी या निजी कॉलेज में बैचलर ऑफ रेडियोग्राफी की डिग्री लेने के बाद किसी भी छात्र को 3 से 6 महीने का इंटर्नशिप करना पड़ता है। जिसके बाद उसे राजस्थान के सरकारी अस्पताल में रेडियोलॉजिस्ट का पद मिलता है लेकिन उसमें भी 2 वर्ष का परिवीक्षा समय रहता है जिसके बाद उसे परमानेंट जॉइनिंग मिलती है। राजस्थान रेडियोलॉजिस्ट की कार्यकुशलता के आधार पर उसे समय-समय पर जॉब प्रमोशन मिलता है और उसकी सैलरी और मिलने वाले भत्तों में भी बढ़ोतरी होती है।

Rajasthan radiographer Job Allowence:- राजस्थान सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों को कुछ भत्ते देती है और यह भत्ते एक रेडियोग्राफर को भी मिलते हैं। राजस्थान सरकार द्वारा दिए जाने वाले भत्ते इस प्रकार हैं:-

  • Home rent allowance-राजस्थान सरकार द्वारा नियुक्त किए गए रेडियोग्राफर्स की नियुक्ति राजस्थान राज्य के किसी भी जिले में हो सकती है। जिसके लिए चुने गए कैंडिडेट को उसी जिले में निवास करना पड़ता है और वह उसके लिए किराए से घर लेता है, राजस्थान सरकार उसे घर किराया भत्ता देती है यह उनके सैलरी का 8% से 16% तक हो सकता है। राजस्थान सरकार राजस्थान के मुख्य पांच शहरों में जैसे जयपुर, जोधपुर, अजमेर, कोटा, बीकानेर में पदस्थ रेडियोग्राफर्स को 16% होम रेंट अलाउंस देती है बाकी अन्य शहरों के लिए 8% है।
  • Dearness allowance-राजस्थान सरकार द्वारा अपने सभी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता मिलता है जो उनके सैलरी का 17% होता है और समय के साथ साथ बढ़ता रहता है। रेडियोग्राफर्स को भी राजस्थान सरकार द्वारा महंगाई भत्ता दिया जाता है जो उनके सैलरी में ऐड होकर हर महीने उन्हें के खाते में आ जाता है।
  • Medical allowance-राजस्थान सरकार द्वारा रेडियोग्राफर को मेडिकल अलाउंस मिलता है इसके अलावा रेडियोग्राफर बीमार होने पर अपना इलाज सरकारी अस्पताल में मुफ्त में करवा सकता है यह राजस्थान सरकार द्वारा दिया जाने वाला अपने सरकारी कर्मचारियों को मेडिकल अलाउंस है जो उनके सैलरी के साथ जोड़कर उनके खाते में आ जाता है।
  • Canteen allowance-राजस्थान सरकार सभी रेडियोग्राफर्स को कैंटीन भत्ता देती है या फिर उन्हें एक कार्ड बना कर देती है जिससे राजस्थान सरकार के सरकारी कैंटीन में उन्हें विशेष छूट मिलती है।
  • Pension-राजस्थान सरकार द्वारा अपने सभी सरकारी कर्मचारियों को सेवानिवृत बादविधा दी जाती है। और राजस्थान सरकार के सरकारी अस्पतालों में पदस्थ रेडियोग्राफर को सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन सुविधा मिलती है जो उसके रिटायरमेंट के बाद उसके खाते में हर महीने जमा कर दी जाती है।
Conclusion:-

चिकित्सा में पूरी दुनिया ने बहुत तरक्की की है। दुनिया के साथ-साथ भारत में भी चिकित्सा के क्षेत्र में तरक्की हुई है। जैसे-जैसे चिकित्सक प्रक्रिया में तरक्की हो रही है वैसे-वैसे इलाज से जुड़ी नई मशीनें देखने को मिल रही है जो कि मानव शरीर की संपूर्ण जांच कर सकती हैं, चाहे वो अंदरूनी हो या बाहरी जांच हो।

 रेडियोग्राफर्स का कार्य ऐसा ही जटिल है और रेडियोग्राफर किसी भी मरीज की शरीर के अंदरूनी जांच करके डॉक्टर द्वारा उस बीमारी का पता लगाए जाने में सहयोग करता है। राजस्थान सरकार अपने रेडियोग्राफर पद के द्वारा किसी भी मेडिकल स्टूडेंट को रेडियोग्राफर बनने का अवसर प्रदान करती है, और हर साल परिक्षा आयोजित करती है। जिस में कोई भी मेडीकल छात्र भाग ले सकता है और अपने सपने पूरे कर सकता है।

Leave a Comment

Don`t copy text!