उपराष्ट्रपति की सैलरी कितनी होती है , Vice President Salary in India

उप राष्ट्रपति की सैलरी कितनी है up rashtrapati ki salary उप राष्ट्रपति की सैलरी कितनी है 2022 up rashtrapati ki salary kitni hoti hai उपराष्ट्रपति की सैलरी :- भारत का दूसरा सबसे बड़ा पद उपराष्ट्रपति का माना जाता है। ऐसे बात की जाए तो राष्ट्रपति के बाद उपराष्ट्रपति का पद आता है। उपराष्ट्रपति के हाथ में भी कई ऐसी शक्तियां होती है। जिनके कारण देश का दूसरा सबसे बड़ा पद उपराष्ट्रपति का होता है। उपराष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रपति के किसी कारणवश ना होने के कारण राष्ट्रपति के सारे कार्यों को संपन्न किया जाता है वाईस-प्रेजिडेंट , उपराष्ट्रपति के कार्य , उपराष्ट्रपति का वेतन , उपराष्ट्रपति की सैलरी कितनी होती है , Vice President Salary , What is the vice president’s salary?, Salaries of the Vice President

उपराष्ट्रपति का चयन अप्रत्यक्ष रूप से किया जाता है। उपराष्ट्रपति भी सरकारी कर्मचारी नहीं होता है। निश्चित कार्यकाल के पश्चात पुनः नए उपराष्ट्रपति का चयन किया जाता है। उपराष्ट्रपति पद पर कार्यरत व्यक्ति का कार्यकाल 5 साल का होता है। हर 5 साल के पश्चात पुनः नए उपराष्ट्रपति का चयन अप्रत्यक्ष रूप से होने वाले चुनाव में किया जाता है।
उपराष्ट्रपति पद प्रोफाइल और कार्य:- 
  • उपराष्ट्रपति पद भारत का दूसरा सबसे बड़ा पद बना जाता है। राष्ट्रपति के बाद उपराष्ट्रपति को दर्जा मिलता है। उपराष्ट्रपति पद पर चयनित होने के लिए व्यक्ति भारत का नागरिक होना आवश्यक है।
  • उपराष्ट्रपति पद पर निश्चित अवधि तक एक व्यक्ति कार्यभार संभालता है। उसके पश्चात नए उपराष्ट्रपति का चयन होता है और उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के रूप में खड़े होने वाले व्यक्ति की उम्र 35 वर्ष होनी जरूरी है। साथ ही वह व्यक्ति सरकार द्वारा दिवालिया घोषित नहीं होना चाहिए।
  • उपराष्ट्रपति पद पर व्यक्ति का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से होता है। उपराष्ट्रपति पद के लिए खड़े होने वाले व्यक्ति के पास राज्यसभा की सदस्यता होनी जरूरी है।
  • उपराष्ट्रपति पद का चुनाव एक निर्वाचित मंडल के सदस्य द्वारा किया जाता है। जिसमें उम्मीदवारों को लेकर संसद के दोनों सदनों में उपस्थित सदस्यों द्वारा वोटिंग करवाई जाती है।
  • उपराष्ट्रपति का चुनाव कई प्रकार के विवाद और शंकाओं के समाधान के लिए किया जाता है। राष्ट्रपति के उपस्थित ना होने पर उपराष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रपति के सारे कार्यों को संपन्न किया जाता है।
  • भारत में विधानसभा तथा लोकसभा द्वारा नए कानून को बनाने के लिए लाए गए बिल में राष्ट्रपति के साथ-साथ उपराष्ट्रपति द्वारा भी मंजूरी मिलती है और यह काम उपराष्ट्रपति पद पर कार्यरत व्यक्ति करता है।
  • उपराष्ट्रपति पद पर कार्यरत व्यक्ति राष्ट्रपति को संबोधित करके अपने पद से इस्तीफा दे सकता है।
  • राष्ट्रपति की मृत्यु या इस्तीफा ऐसी स्थिति में उपराष्ट्रपति द्वारा वह सारे कार्य संपन्न किए जाते हैं। जो राष्ट्रपति द्वारा किए जा रहे थे।
  • उपराष्ट्रपति को किसी भी कारणवश कार्यकाल से हटाया भी जा सकता है। जिस दिन उपराष्ट्रपति पद पर चयनित होने वाले व्यक्ति द्वारा उप राष्ट्रपति पद के लिए शपथ ली जाती है। वह अगले 5 वर्ष के लिए देश का उपराष्ट्रपति रहता है।
उपराष्ट्रपति की सैलरी कितनी होती है:-  भारत में उपराष्ट्रपति पद पर कार्य करने वाले व्यक्ति की सैलरी बहुत अच्छी होती है। ऐसा कहें तो, उपराष्ट्रपति का पद भारत में दूसरे नंबर का सबसे बड़ा पद है। राष्ट्रपति के बाद उपराष्ट्रपति का पद सबसे बड़ा पद माना जाता है। इसीलिए राष्ट्रपति से कम लेकिन बाकी पद पर कार्यरत सरकारी कर्मचारियों से अधिक सैलरी उपराष्ट्रपति को मिलती है। सन 2016 में पेश किए गए सातवें वेतन आयोग के पश्चात उपराष्ट्रपति पद पर कार्य करने वाले व्यक्ति की सैलरी ₹400000 प्रतिमाह दी जाती है। इसके अलावा कई अन्य सुविधाएं,सुरक्षा और बोनस भी प्रदान किया जाता है।
इस आलेख को इंग्लिश पढ़े :- Salary of President of India
सभी प्रकार को जॉब्स की सलेरी देखे 

Leave a Comment

Don`t copy text!