Rajasthan Ecg Technician Salary: Ecg Technician Job Profile

ecg technician salary in rajasthan ecg technician course in rajasthan ecg technician salary in india
Rajasthan Ecg Technician Salary:- भारत में मेडिकल फील्ड से जुड़े लोगों की मांग निरंतर बनी रहती है। इसके अलावा राजस्थान में भी वह व्यक्ति जो मेडिकल फील्ड से जुड़े हुए हैं। उनकी मांग बनी रहती है। भारत में जैसे-जैसे इलाज की नई नई तकनीकी आ रही है वैसे वैसे उस तकनीकों और मशीनों को ऑपरेट करने वाले टेक्नीशियन की आवश्यकता पड़ती है। इसी संदर्भ में राजस्थान इसीजी टेक्निशियन की मांग राजस्थान सरकार के सरकारी अस्पतालों में होती है। आज के आर्टिकल में हम Rajasthan Ecg Technician Salary,Rajasthan Ecg Technician Salary In Hand, Rajasthan Ecg Technician Job Profile, Rajasthan Ecg Technician Job Allowance इत्यादी के बारे में बात करने वाले है।

Rajasthan Ecg Technician Kiya Hota Hai:- राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन की भर्ती RSMSSB राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड द्वारा की जाती है जिसकी स्थापना राजस्थान में भारत के संविधान के अनुच्छेद 309 के अंतर्गत राजस्थान सरकार ने 19/1/2014 में की। राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड का कार्य राजस्थान सरकार के अन्य सरकारी विभागों के लिए उच्च और योग्य अफसरों और पदाधिकारियों की नियुक्ति करना है।

RSMSSB विभाग राजस्थान के सरकारी अस्पतालों में डॉक्टर नर्स तथा नर्सिंग स्टाफ के अलावा अन्य मेडिकल स्टाफ की भर्तियां करता है ईसीजी टेक्निशियन इसी से जुड़ा हुआ है। राजस्थान सरकार समय-समय पर ईसीजी टेक्नीशियन की भर्ती निकालती रहती है राजस्थान सरकार अपनी लिखित परीक्षा से इसीजी टेक्नीशियन की भर्ती करता है। ECG टेक्नीशियन के लिए कोई भी मेडिकल छात्र जिसके पास बायो से 12वीं पास की मार्क शीट है आवेदन कर सकता है और सरकारी अस्पताल में ईसीजी टेक्निशियन की जॉब पा सकता है।

Rajasthan Ecg Technician Salary:-राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन को पे ग्रेड लेवल एट के अनुसार ही प्रति महीने तनख्वाह मिलती है,फ्राइडे पे ग्रेड लेवल एट के अनुसार ₹26300 प्रतिमाह  राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन को मिलते हैं।इस सैलरी के अलावा उन्हें विभिन्न प्रकार के बच्चे जो राजस्थान सरकार द्वारा अपने सभी सरकारी कर्मचारियों और अफसरों को दिए जाते हैं वह भी प्रतिमा ईसीजी टेक्निशियन को मिलते हैं और धनराशि उनके खाते में हर महीने आ जाते हैं।

Rajasthan Ecg Technician Salary 

Category Amount
Basic Salary Rs. 26300/-
CCA  3-5% of basic salary (650)
DA 17% of  basic salary (3500)
HRA 8 % of  basic salary (2250)
Grade Pay 3600

 

Rajasthan  Ecg technician  Salary in Hand:- राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन कभी अन्य सरकारी अफसरों की तरह ही भत्ते दिए जाते हैं, और यह बता ईसीजी टेक्नीशियन की सैलरी में प्रति महीने जोड़कर मिलते हैं। इसके अलावा उनकी मासिक सैलरी में कुछ कटौती भी की जाती हैं,और राजस्थान सरकार द्वारा लगाए गए टैक्स काटने के बाद जो सैलरी बस्ती है उसे सैलेरी इन हैंड कहा जाता है जो उनके खाते में हर महीने डाल दी जाती है।

Category Amount
PF (10% of Basic) 2630/-
NPS (10% of Basic+DA) 5130/-
Income Tax As Per Govt. Norms

 

Total In Hand Salary after Deductions :-  Rs.25000-31500/- Per month (approx.)

Rajasthan  Ecg Technician Job Profile:- ईसीजी टेस्ट ह्रदय की जांच के लिए किया जाता है। इसीजी टेस्ट हृदय की रक्त वाहिकाओं, हृदय की गति और हृदय से जुड़ी अन्य जांचों के लिए किया जाता है। जो व्यक्ति ईसीजी टेस्ट करता है उसे ईसीजी टेक्निशियन कहा जाता है। ईसीजी टेस्ट दिल से जुड़ी बीमारियों का पता लगाने के लिए किया जाता है। जिसके माध्यम से हृदय में ऑक्सीजन की मात्रा, हृदय गति और हृदय में पड़ने वाले बल का पता लगाया जाता है। इस के आलावा हृदय से संबंधित अन्य बीमारियों का पता लगाने के लिए ईसीजी टेस्ट किया जाता है।  इसके लिए ईसीजी मशीन आती है और ईसीजी मशीन को चलाने वाले व्यक्ति को ईसीजी टेक्नीशियन कहा जाता है।

ईसीजी टेक्निशियन का काम ईसीजी मशीन को ऑपरेट करना होता है। ईसीजी टेक्नीशियन का काम ईसीजी प्रक्रिया की देखरेख करना होता है ईसीजी मशीन द्वारा दिए गया अंकड़ो की गणना करना होता है। इसीजी  टेक्नीशियन ईसीजी मशीन द्वारा जारी की गई जानकारी डॉक्टर तक पहुंचाता है। कोई भी बायो स्टूडेंट 12वीं पास करने के बाद ईसीजी टेक्निशियन का कोर्स कर सकता है। और ईसीजी टेक्निशियन कोर्स करने के बाद किसी भी हॉस्पिटल में 3 या 6 महीने की इंटर्नशिप करने के बाद ही वह ईसीजी टेक्निशियन की जॉब पा सकता है।

Rajasthan  Ecg Technician Job Promotion:- राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन को 2 साल के परीक्षा समय के बाद ही परमानेंट जॉइनिंग मिलती है और परमानेंट जॉइनिंग के बाद ईसीजी टेक्निशियन को उसकी कार्यकुशलता और उसके एक्सपीरियंस के आधार पर समय-समय पर जो प्रमोशन में मिलती रहती है। जिसके तहत ईसीजी टेक्निशियन सैलेरी में भी बढ़ोतरी होती है, राजस्थान ईसीजी टेक्निशियन का प्रमोशन अन्य सरकारी अफसरों की तरह ही होता है जो उनकी कार्यकुशलता और उनके द्वारा किए गए कार्यों के आधार पर होता है।

Rajasthan  Ecg Technician Job Allowence:- सरकार द्वारा अपने सभी मेडिकल स्टाफ जैसा डॉक्टर्स, नर्सेज और टेक्नीशियन को कुछ भत्ते देती है जो उनकी सैलरी में हर महीने जुड़ कर उन्हें मिलता है। राजस्थान सरकार द्वारा इसीजी लैब टेक्नीशियन को दिए जाने वाले भत्ते इस प्रकार हैं:-

Home rent Allowence:- राजस्थान सरकार द्वारा इसीजी लैब टेक्नीशियन को हर महीने घर किराया भत्ता दिया जाता है जो उन की सैलरी का 8% से 10% होता है। और यह उन्हें हर महीने दिया जाता हैm घर किराया भत्ता इसीजी लैब टेक्नीशियन की सैलरी में जुड़ कर उन्हें हर महीने मिल जाता है।
Dearness Allowence :- राजस्थान सरकार द्वारा ईसीजी लैब टेक्नीशियन को हर महीने महंगाई भत्ता दिया जाता है, जो राजस्थान सरकार द्वारा इसीजी  लैब टेक्नीशियन को मिलने वाली सैलरी के साथ जोड़ कर दिया जाता है। महंगाई भत्ता इसीजी लैब टेक्नीशियन की सैलरी का 17% होता है।
Medical Allowence:- राजस्थान सरकार द्वारा अपने हर एक सरकारी डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ को मेडिकल अलाउंस दिया जाता है। राजस्थान सरकार द्वारा इसीजी लैब टेक्नीशियन को भी मेडिकल अलाउंस मिलता है। इसके अलावा ईसीजी लैब टेक्नीशियन राजस्थान सरकार के किसी भी सरकारी अस्पताल में मुफ्त में इलाज करवा सकता है।
Canteen Allowence:- राजस्थान सरकार द्वारा अपने इसीजी लैब टेक्नीशियन को कैंटीन भत्ता दिया जाता है जिसके तहत राजस्थान सरकार के सरकारी अस्पतालों में मौजूद कैंटीन में उसे विशेष छूट मिलती है।
Pention:- राजस्थान सरकार अपने सभी सरकारी डॉक्टर, नर्स और लैब टेक्नीशियन को उनके कार्यकाल के दौरान विभिन्न प्रकार के भत्ते तो देते ही है। साथ ही साथ उनकी सेवानिवृत्ति के बाद उन्हें पेंशन सुविधा उपलब्ध भी करवाती है। ईसीजी लैब टेक्नीशियन को भी उनकी सेवानिवृत्ति के बाद उन्हें पेंशन मिलती है।

Conclusion:- हमारे देश में हृदय से संबंधित बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। जैसे-जैसे हृदय रोगियों की संख्या बढ़ रही है वैसे-वैसे की जांच करने वाले या फिर ईसीजी टेक्नीशियन की मांग भी बढ़ती जा रही है। राजस्थान में सरकारी अस्पतालों या प्राइवेट अस्पतालों में ईसीजी टेक्निशियन की मांग बढ़ती जा रही है। जो भी विद्यार्थी मेडिकल क्षेत्र में जॉब करना चाहता है या अपनी सेवा देना चाहता है।

 वह राजस्थान सरकार के लैब टेक्नीशियन जॉब कर सकता है, जिसके लिए वह 12वीं के बाद लैब टेक्नीशियन का कोर्स कर सकता है। हमारे देश में हृदय से संबंधित गंभीर बीमारियां बढ़ती जा रही सोचाएक कारण यह भी है कि आजकल की जो दिनचर्या है उसमें शारीरिक व्यायाम बहुत ही कम हो गया है। आजकल बच्चे भी शारीरिक व्यायाम नहीं कर पा रहे और मोबाइल फोन डिवाइस में अपना समय व्यतीत करते हैं।
Read also:

Leave a Comment

Don`t copy text!