PHD कोर्स क्या है

PHD क्या है :-पीएचडी एक उच्च डिग्री होती है। Ph.D का Full Form- Doctor of Philosophy होता है, इसे करने के बाद आप अपने नाम के आगे Doctor (डॉ.या Dr.) लगा सकतें है। इसे डॉक्टर कि डिग्री भी कहतें है। इसे करने के बाद आपकोPhysics,chemistry,biology आदि एक सब्जेक्ट का पूर्ण रूप से ज्ञान होना अनिवार्ये हैं | इस डॉक्टर डिग्री से आप किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी मैं टीचिंग भी कर सकते हैं और इस Phd (डॉक्टर डिग्री)से आप राइटर बुक भी लिख सकते हैं और इसके लिए आपको बहुते मेहनत करनी पड़ेगी मन लगा के पढ़ना पड़ेगा,अगर आप इस कोर्स को कर लेंगे तो आप एक्सपर्ट कहलाएंगे लेकिन पीएचडी करने से पहले आपको किसी भी Subject में मास्टर डिग्री पूरी होनी चाहिए जिसमें अपका इंटरेस्ट हो ।PHD कोर्स क्या है

पीएचडी करने के लिए योग्यता :-पीएचडी में दाखिला लेने के लिए आपके ग्रेजुएशन (BA/BCOM/BSC) पूरी होनी चाहिए।
ग्रेजुएशन के साथ में मास्टर डिग्री भी पूरी होनी चाहिए। PHD में Admission के लिए आपको पहले Entrance Test Pass करना होता हैं जिसके लिए apply करने के लिए आपके minimum 55% मार्क्स होने चाहिए। अगर आप engineering में phd करना चाहते हैं तो आपका एक valid Gate Score होना चाहिए।

यह जानने से पहले हम आपको बता दें कि आपको इसका फुल फॉर्म और यह क्या है यह जानना क्यों आवश्यक है क्योंकि आज के इस दौर में बहुत competition है प्रत्येक व्यक्ति सफल होना चाहता है जिससे उनका भविष्य अच्छा हो सके। सफलता पाने के लिए सभी अलग — अलग क्षेत्र में बहुत से course करते है तथा दिन रात मेहनत करते हैं। किसी भी course को करने से पहले जरूरी है कि आपको उस course की पूरी जानकारी हो। इस article में एक ऐसे ही कोर्स phd की बात करेंगे। यह एक बहुत ही popular तथा prestigious course है। जिसे पूरा करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। Phd करने के लिए मेहनत के साथ साथ धैर्य की भी बहुत आवश्यकता होती है। Ph.D का Full Form- Doctor of Philosophy होता है। जिसे साधारण भाषा में या शार्ट रूप में Ph.D या फिर PhD भी कहतें है। हिन्दी में इसे पीएचड़ी लिखतें है।

PHD एंट्रेंस एग्जाम :- जैसे ही नेट एग्जाम क्लियर कर लेते हैं उसके बाद में आप पीएचडी एंट्रेंस एग्जाम के लिए योग्य हो जाते हैं अब आपको अपने हिसाब से जिस भी कॉलेज में आप को पीएचडी डिग्री की पढ़ाई करनी है उस कॉलेज के एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं l हर यूनिवर्सिटी अपने-अपने एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट PHD के लिए तो आप को इस एग्जाम को क्लियर करना होगा तभी आप आगे एडमिशन ले पाएंगे |

पीएचडी कितने साल की होती है :-
पीएचडी कोर्स इंडिया में 4 या फिर 5 साल का होता है. Canada में 4 years का Europe में countries like Germany, France और UK, इसके लिए 3 years लगते है इंडिया में 4 साल में पीएचडी कम्पलीट हो जाती है, लेकिन कई लोगो को इससे ज्यादा समय भी लग जाता है, उसके रिसर्च और गाइड पर इसका समय भी निर्भर हो सकता है |

विषय कैसे choose करे :-
आप मन पसंद विषय से पीएचडी कर सकते है |
1) पीएचडी विषय हिंदी
2) पीएचडी विषय अंग्रेजी
3) पीएचडी विषय होम साइंस
4) पीएचडी विषय एग्रीकल्चर
5) पीएचडी विषय इतिहास
6) पीएचडी विषय फाइन आर्टस
7) पीएचडी विषय सर्जरी
8) पीएचडी विषय जियोग्राफी
9) पीएचडी विषय जियोलॉजी
10) पीएचडी विषय एकाउंटिंग
11) पीएचडी विषय बायोकेमिस्ट्री
12) पीएचडी विषय फार्मेसी

पीएचडी की फीस कितनी है :-
PhD course की फीस निर्धारित नहीं है , यह सभी University की अलग – अलग होती है । जिसमे Government University की फीस Private University से कम होती है ।

PHD टॉप यूनिवर्सिटी :-
इंस्टिट्यूट ऑफ़ जेनेटिक इंजीनियरिंग कोलकाता Institute of Genetic Engineering
अमिती यूनिवर्सिटी नोइडा Amity university
जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी jawahar lal nehru university
इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस बंगलोर indian institute of science
एमिटी यूनिवर्सिटी, नॉएडा
टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च
इंस्टिट्यूट ऑफ जेनेटिक इंजीनियरिंग बडू – कोलकाता
इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस, बैंगलोर
केसीजी कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजि, चेन्नई
जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी
इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्निकल एंड प्रोफेशनल स्टडीज, कोलकाता
जामिआ मिल्लिआ इस्लामिया यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली
चैन्नई मैथमेटिकल इंस्टिट्यूट
इंडियन स्टैटिस्टिकल इंस्टिट्यूट (आईएसआई
बी. एच यू वाराणसी
PHD कोर्स क्या है
PHD ke फायदे :-
पीएचडी करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एक प्रोफेसर के रूप में नियुक्त हो सकते है ।
पीएचडी करने के बाद आप के नाम के आगे डॉ० (Dr) लग जाता है जो आपके स्टेटस को और बढ़ा देता है ।
पीएचडी करने के पश्चात आप अपने विषय पर रिसर्च या एनालिसिस कर सकते है ।
पीएचडी किये हुए व्यक्ति को क्रिएटर ऑफ़ इनफार्मेशन भी कहा जाता है ।
शिक्षा के क्षेत्र में यह सर्वोच्च डिग्री है, इसको करने के पश्चात आप उस विषय के विशेषज्ञ कहे जायेंगे ।
पीएचडी करने के पश्चात आप अपने क्षेत्र में गलत और सही का निर्णय कर सकते है ।
पीएचडी एक बड़ी डिग्री है , जिसको करने के बाद आप अपने क्षेत्र में किसी भी बड़े पद के लिए आवेदन कर सकते है ।

PhD क्यों करें :-
1) कुछ नया achevie करने के लिए
2) किसी विषय में रिसर्च करके के उसका पूरा ज्ञान प्राप्त करने के लिए
3) पीएचडी पूरा करने के बाद नाम के आगे डॉ. लगा सकते है।
4) पीएचडी पूरा करने के बाद कई सारी फील्ड में जॉब प्राप्त कर सकते है।
5) कुछ लोग इंडिया में नहीं बल्कि इंडिया के बाहर पीएचडी के लिए जाते है. ताकि और भी
6) बेहतर ज्ञान हासिल किया जाए |धन्यवाद !

इस आलेख को इंग्लिश में पढ़े :- All About PHD – Full Form, Subjects, Courses, Degree & Scope
लेटेस्ट जॉब देखे
Join WhatsApp Group
Join Facebook Group
Subscribe YouTube Channel
Subscribe Telegram Channel
Topic Wise Question Bank E -Books(PDF)  
Rajasthan Geography Question Bank:- Buy Now 
  Rajasthan History Question Bank:- Buy Now 
  Rajasthan Arts And Culture Questions Bank:- Buy Now
Indian Geography Question Bank:- Buy Now
  Indian History Question Bank:- Buy Now   
General Science Questions Bank:- Buy Now
Rajasthan Geography Hand Writing Notes PDF:- Buy Now
Computer Digital Notes PDF:- Buy Now

Treading

Load More...
You cannot copy content of this page