एलएलएम (LLM) क्या है कैसे करे पूरी जानकारी

एलएलएम (LLM) क्या है कैसे करे पूरी जानकारी  llm karne ke fayde  llm course details in hindi  llm ke baad kya kare  llm kya hai  एल एल एम का फुल फॉर्म  llm kitne saal ka hota hai    llm kya hota ha

LLM क्या है :-LLM एक Postgraduate Law Course है कानून एक नियम या आचरण का नियम है जो किसी प्राधिकरण द्वारा स्थापित और विनियमित किया जाता है LLM Course दो साल का होता है Law Degree के मास्टर संस्थान के आधार पर ज्यादातर चार या अधिक सेमेस्टर में विभाजित है. इस कोर्स को पूरा करने की अधिकतम अवधि भिन्न हो सकती है, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के अनुसार LLM कोर्स को अधिकतम चार साल की अवधि में पूरा किया जाना चाहिए. LLM Course संरचना विभिन्न विशेषज्ञता पर आधारित है. विभिन्न संस्थानों द्वारा LLM Course को Correspondence और Distance मैं भी प्रस्तुत किया जाता है |

भारत में कानून की डिग्री अधिवक्ता अधिनियम 1961 के संदर्भ में प्रदान की जाती है जो कानूनी शिक्षा के संचालन के कानूनी शिक्षा और विनियमन के पहलू पर संसद द्वारा पारित एक कानून है |अधिनियम के तहत, बार काउंसिल ऑफ इंडिया भारत में कानूनी पेशे को विनियमित करने और देश में कानूनी पेशे द्वारा व्यावसायिक मानकों के कानूनों और रखरखाव के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए सर्वोच्च नियामक संस्था है |जैसे कि बार काउंसिल ऑफ इंडिया कानून की डिग्री के लिए पात्र होने के लिए किसी संस्थान में पढ़ाने के लिए आवश्यक न्यूनतम पाठ्यक्रम निर्धारित करता है बार काउंसिल डिग्री प्रदान करने वाले संस्थानों की अवधि के पर्यवेक्षण पर भी कार्य करता है और उनकी शिक्षण पद्धति और पाठ्यक्रम का मूल्यांकन करता है और यह निर्धारित करता है कि संस्थान आवश्यक मानकों को पूरा करता है संस्थान को मान्यता देता है और इसके द्वारा प्रदान की गई डिग्री। यह इस संबंध में भारत और राज्य बार काउंसिलों में विश्वविद्यालयों का संरक्षण करता है |

 LLM करने के लिए शैक्षिक योग्यता :-LLM मे प्रवेश पाने के लिए न्यूनतम Criteria यह है कि उम्मीदवार ने कानून मे Bachelor Degree पूरी कर ली हो यानी के LLB. LLM में प्रवेश केवल LLB में उत्तीर्ण छात्र ही ले सकते हैं LLM कोर्स दो वर्ष का होता है इसमें छात्रों को कानून से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है

 एलएलएम पाठ्यक्रम:- 
सेम 1 – अध्ययन के विषयतुलनात्मक न्यायशास्त्र
1) तुलनात्मक संवैधानिक कानून
2) शिक्षण विधियाँ और अनुसंधान पद्धति
3) सार्वजनिक अंतर्राष्ट्रीय विधि
सेम 2
1) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर I
2) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर II
3) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर III (वैकल्पिक)
सेम 3
1) विशेषीकरण क्षेत्र – पेपर IV
2) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर वी
3) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर VI (वैकल्पिक)
सेम 4
1) विशेषज्ञता क्षेत्र – पेपर VII
2) निबंध
3) मौखिक परीक्षा
4) शिक्षण असाइनमेंट

 LLM की फुल फॉर्म क्या होती है :- LLM Full Form, LLM में प्रवेश कैसे लिया जा सकता है एल.एल.एम की फुल फॉर्म इन हिंदी, LLM का Working Area क्या है, LLM किसे कहते है, LLM के लिए क्या Eligibility होती है, दोस्तों क्या आपको पता है LLM की full form क्या है, LLM का क्या मतलब होता है LLM Ka Poora Naam Kya Hai, LLM Hota Kya Hai, LLM करने के लिए कौन कौन से विषय ले सकते है, अगर आपका answer नहीं है तो आपको उदास होने की कोई जरुरत नहीं है क्योंकि आज हम इस post में आपको LLM की पूरी जानकारी हिंदी भाषा में देने जा रहे है तो फ्रेंड्स LLM Full Form in Hindi में और LLM की पूरी history जानने के लिए इस post को लास्ट तक पढ़े

 LLM करने के फायदे :- LLM कोर्स करने के कई फायदे होते हैं जो Student LLM का कोर्स करते हैं उन्हें Law Firms, Consultancy, Finance, Corporate, Media and Publishing Houses, Courthouses, Real Estate, Private Attorneys and Loire, Patent Attorney आदि क्षेत्रो में आसानी से Job मिल जाती है इन क्षेत्रो में अच्छी Job मिलने के साथ-साथ अच्छी Income भी आसानी से हो जाती है |
विशेषज्ञता के क्षेत्र
बीमा
दिवालियापन
मानवाधिकार
वित्तीय सेवाएं
पर्यावरण के मुद्दें
सूचान प्रौद्योगिकी
वाणिज्यिक और कॉर्पोरेट
संपत्ति कानून और कई और अधिक
लक्षित उम्मीदवारों को
जो उम्मीदवार मुख्य रूप से एलएलएम डिग्री चुनते है वे कहलाते है
वकीलों
कानून के प्राध्यापक
डॉक्टरल छात्र
विधि पेशेवर
मानव अधिकार कार्यकर्ता
व्यापार पुरुषों और महिलाओं आदि

 LLM के बाद जॉब प्रोफाइल :-
वकील
महान्यायवादी
मजिस्ट्रेट
नोटरी
वकील
ट्रस्टी
लॉ रिपोर्टर
कानून विशेषज्ञ
कानूनी सलाहकार
सार्वजानिक अभियोक्ता
शिक्षक और व्याख्याता
जिला एवं सत्र न्यायाधीश

 LLM के बाद रोजगार के क्षेत्र :-
कानूनी संस्था
courtrooms
अनुसंधान विभाग
मुकदमेबाजी
मध्यस्थता परामर्श
कॉलेजों और विश्वविद्यालयों
कॉर्पोरेट घराने (कानूनी विभाग)
भारत में शीर्ष 10 एलएलएम कॉलेज
उस्मानिया विश्वविद्यालय
राष्ट्रीय कानून विश्वविद्यालय
नुल्सर यूनिवर्सिटी ऑफ लॉ
ओ पी। जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी
महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय
हिदायतुल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी
राजीव गांधी राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय
राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी
विधि संकाय, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
पश्चिम बंगाल नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ ज्यूरिडिकल साइंसेज

एलएलबी कोर्स विवरण :-
पात्रता, प्रवेश शुल्क, अवधि, कॉलेज, वेतन
एलएलबी कोर्स विवरण जैसे पात्रता, शुल्क, अवधि, कॉलेज, वेतन, और अन्य जानकारी देखें। यहाँ हमने एलएलबी अर्थ, एलएलबी कोर्स क्या है, एलएलबी को पूरा करने में कितने साल लगते हैं एलएलबी (एलएलबी कोर्स) के लिए दूरस्थ शिक्षा की पेशकश करने वाले कॉलेजों और एलएलबी डिग्री कोर्स के बारे में अन्य महत्वपूर्ण संदेह जैसे सवालों को स्पष्ट किया है।

 निष्कर्षमें उम्मीद करता की आज की  हमारी इस पोस्ट के  माध्यम से आपने यह जान लिया होगा की B.Com क्या होता है और आप कैसे इसमें अपना करियर बना सकते है | अगर आपका B.Com से सम्बंधित और कोई सवाल हो तो आप नीचे comment box में लिखकर पूछ सकते है , हमरी टीम द्वारा आपके हर सवाल का जवाब दिया जायेगा |  धन्यवाद !

Useful Article 

 

Leave a Comment

Don`t copy text!