Connect with us

कैरियर

bank manager Course Kya Hai, bank manager Course हेतु आयु सीमा

Published

on

bank manager Course Kya Hai :-
बैंक मैनेजर एक ऐसा पद होता है जो की भारत का हर व्यक्ति ग्रहण करना चाहता है क्योकि बैंक में जॉब करने से एक तो हमें अच्छी सैलरी मिलती है और दूसरा बैंक की तरफ से कई तरह की सुविधाओं के साथ समाज में इज्जत भी मिलती है | यहाँ तक की कई लोग बैंक मैनेजर को अपना एक ड्रीम बना लेते है की उन्हें अब बैंक में ही जॉब करनी है और मैनेजर बनना है जिसके लिए वह कड़ी मेहनत भी करते है और परीक्षा भी पास करते है इसीलिए अगर आप भी बैंक में मैनेजर बनना चाह रहे है तो इसके लिए आप हमारे द्वारा बताई गयी जानकारी के माध्यम से बैंक मैनेजर बनने की जानकारी पा सकते है |
bank manager Course Kya Hai
bank manager Course Full Form In Hindi :-
आम तौर पर बैंक हमे धन उधार देते हैं और बदले में आपके द्वारा पूरे क्रेडिट को वापस करने के लिए चुने गए कार्यकाल के आधार पर ब्याज लेते है, और एक आम ग्राहक यहाँ अपने पैसे Saving करने के लिए भी जमा करता है तो हम उसी के आधार परबैंक का पूरा नाम तय कर रहे है |

bank manager Course के लिए योग्यता :-
1) बैंक मैनेजर के लिए उम्मीदवार के पास कुछ शैक्षणिक योग्यता होनी चाहिए जैसे कि –
2) बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए
3) बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र 20 वर्ष से 30 वर्ष तक ही होनी चाहिए
4) बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार को कंप्यूटर की बेसिक जानकारी व टैली और
5) एकाउंटिंग से सम्बंधित जानकारी होनी चाहिए
6) बैंक मैनेजर की पोस्ट के लिए मैनेजमेंट की पोस्ट का होना अनिवार्य है इसीलिए उम्मीदवार के पास एमबीए या पीजीडीबीम की डिग्री होनी चाहिए
7) बैंक मैनेजर की पोस्ट के लिए उम्मीदवार को सरकारी बैंको में आईबीपीएस का एग्जाम
क्लियर करना होता है तथा इसके लिए उम्मीदवार 60% अंको के साथ ग्रेजुएट में पास होना चाहिए |
9) बैंक मैनेजर प्राइवेट बैंको में बनने के लिए भी उम्मीदवारों को PO प्रोग्राम को ज्वाइन करना अनिवार्य होता जिसमे की 21 से 30 वर्ष तक के ग्रेजुएट उम्मीदवार 55% मार्क्स के साथ इस पोस्ट के योग्य बन सकते है |

bank manager Course हेतु आयु सीमा :-
Bank Manager बनने वाले उम्मीदवार की आयु सीमा लगभग 20 साल से 30 साल के बीच तक की होनी आवश्यक है |जबकि प्राइवेट बैंक के लिए अभ्यर्थी की आयु 21 वर्ष से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए | वहीं, अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को 5 और 3 साल तक की छूट प्रदान की जाती है |

bank manager Course की सैलरी :-
बैंक मैनेजर की सैलरी बहुत अच्छी होती है बैंक मैनेजर को सैलरी लगभग 20,000 से 60,000 रुपये प्रतिमाह तक के बीच में मिलती है बैंक मैनेजर को कई तरह की सुविधा भी मिलती है |

bank manager Course के लिए चयन प्रक्रिया :-
बैंक मैनेजर के लिए सरकारी बैंकों में भर्ती आम तौर पर तीन चरण में की जाती है. इसके पहले दो चरणों में Written Exam होता है, जिसे Preliminary Exam और Main Exam कहा जाता है. इसके अंतिम चरण में साक्षात्कार यानी के इंटरव्यू लिया जाता है.
1) प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam )
2) मुख्य परीक्षा (Main Exam )
3) साक्षात्कार ( Interview )
4) समुह विचार-विमर्श ( Group Discussion )
प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam ) –
प्रारम्भिक परीक्षा में करंट अफेयर्स , जनरल इंग्लिश, मैथ , तार्किक प्रश्न और सामान्य ज्ञान के प्रश्न आते हैं. इस परीक्षा के सभी प्रश्नो को आपको हल करना होगा तभी आप दूसरे चरण के लिए क्वालीफाई कर पाएंगे |
मुख्य परीक्षा ( Main Exam ) –
मुख्य परीक्षा बैक मैनेजर बनने का‌ दुसरा चरण होता‌ है ये प्रारंभिक परीक्षा से बहुत कठिन होती है जो उम्मीदवार प्रारम्भिक परीक्षा में सफल‌ होते हैं उन्ही को इस परीक्षा में बुलाया जाता

साक्षात्कार ( Interview ) –
प्रारम्भिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद आपका बैंक के अधिकारियो द्वारा इंटरव्यू लिया जाता है. इस इंटरव्यू को क्वालीफाई करना भी अनिवार्य होता है तभी आप तीसरे चरण के लिए आगे बढ़ पाते है इसमें आपसे आपके बारे में कुछ बाते और जनरल नॉलेज से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है
समुह विचार ( Group Discussion ) –
इस चरण में ग्रुप डिस्कशन किया जाता है यानि की आपको एक ग्रुप में बिठाया जाता है और ग्रुप में एक टॉपिक दिया जाता है और उस टॉपिक पर आपको अपने साथियो के साथ डिस्कशन करना पड़ता है उसके बाद ही आप बैंक मैनेजर की पोस्ट के लिए योग्य बन जाते है

bank manager Course के कार्य :-
मार्केटिंग मैनेजर किसी उत्पाद या सेवा के मार्केटिंग में शामिल सभी कार्यों का ख्याल रखता है. वह मैन्युफैक्चरिंग और फायनांस जैसे विभिन्न विभागों के बीच एक महत्वपूर्ण लिंक के रूप में कार्य करता है और ग्राहकों की अपेक्षाओं को समझाता है |

bank manager Course सिलेबस :-
1) मात्रात्मक रूझान:
2) सोचने की क्षमता
3) अंग्रेजी भाषा
4) कंप्यूटर
5) सामयिकी
6) बैंकिंग

इस आलेख को इंग्लिश में पढ़े :- All About bank manager – Full Form, Subjects, Courses, Degree & Scope
bank manager के बाद लेटेस्ट जॉब देखे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Don`t copy text!