आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने

Anganwadi छोटे बच्चों की पोषण, स्वास्थय और शिक्षा संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए एकीकृत बाल विकास सेवाएँ के कार्यक्रम के रूप में ग्राम स्तर पर सरकार द्वारा समर्थित एक केंद्र है Anganwadi 6 वर्ष तक की आयु के बच्चों, किशोर युवतियों, गर्भवती महिलाओं तथा शिशुओं की देखरेख करने वाली माताओं की आवश्यकताओं की पूर्ति करती है| आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने  |

आंगनबाडी केंद्र में क्या होता है

इस केंद्र में तीन से छह साल तक के बच्चों के पोषण का, उनके स्वास्थ्य का ओर प्रारंभिक शिक्षा का ध्यान रखा जाता है। इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने का भी काम आंगनबाडी के जिम्मे होता है। आसान शब्दों में कहें तो तीन से छह साल के बच्चों को पोषण, स्कूल पूर्व शिक्षा और स्वास्थ्य प्रदान करने के लिए और गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए सरकार आंगनबाड़ी केंद्र चलाती है और इन केंद्रों के संचालन का जिम्मा आंगनबाडी कार्यकर्ता करती है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने  |

आंगनबाडी योजना कब शुरू हुई 

अब हम आपको आंगनबाडी योजना का इतिहास बताएंगे। दरअसल, आंगनबाडी योजना का शुभारंभ आज से 34 साल पहले 1985 में हुआ था। उस वकत एकीकूत बाल विकास सेवा कार्यक्रम के तहत इसे प्रारंभ किया गया था। आज की तारीख में केंद्र सरकार राज्यों की मदद से बच्चों और गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए इस योजना को संचालित करती है। महिला एवं बाल विकास विभाग की देख रेख में इस योजना का काम निदेशालय समेकित बाल विकास सेवाएं देखता है। विभाग की ओर से जारी आदेशों पर उसी की ओर से राज्य में योजना को लेकर सभी दिशा निर्देश जारी किए जाते हैं |

आंगनबाडी कार्यकर्ता बनने के लिए यह आवश्यक है 

  • आवेदन करने वाली महिला संबंधित राज्य की स्थानीय निवासी हो
  • आवेदन करने वाली महिला की उम्र कम से कम 21 वर्श और अधिक से अधिक 45 साल हो
  • यह एक आवश्यक शर्त है कि आवेदक महिला अनिवार्य रूप से विवाहित हो

आंगनबाडी कार्यकर्ता बनने के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है 

  • आंगनबाडी बनने के लिए सामान्य योग्यता के लिए अतिरिक्त शैक्षिक योग्यता भी निर्धारित की गई है। आपको बता दें कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए शैक्षिक योग्यता 10वीं निर्धारित की गई है। यानी केवल वही महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए आवेदन कर सकती है, जिसने कि कम से कम 10वीं पास की हो। वहीं, आंगनबाड़ी सहायिका बनने के लिए आवेदन करने के लिए यह योग्यता कम से कम 8वीं पास रखी गई है।

आंगनवाड़ी बनने के लिए आयु सीमा 

  • Anganwadi कार्यकर्ता बनने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक आयु सीमा निर्धारित की गई है. मुख्यत आंगनवाड़ी कार्यकर्ता महिलाएं ही होती है इसलिए उनके लिए आयु सीमा 18 वर्ष से लेकर 45 वर्ष तक रखी गई है अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लिए (SC/ST) – 5 वर्ष की छूट अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए (OBC) – 3 वर्ष की छूट

अन्य भाषाओं में आंगनवाड़ी का अनुवाद  

  • हिंदी – आंगनवाडी
  • बंगाली – অঙ্গনওয়াড়ি
  • गुजराती – આંગણવાડી
  • कन्नड़ – ಅಂಗನವಾಡಿ
  • मलयालम – അംഗന്വാടി
  • मराठी – अंगणवाडी
  • पंजाबी – ਆਂਗਨਵਾੜੀ
  • तमिल – அங்கன்வாடி
  • तेलुगु – అంగన్వాడీ
  • उर्दू – آنگنواڑی
  • सिन्धी – انگيگيادي

आंगनवाड़ी में उपलब्ध कराई जाने वाली सेवाएँ 

  • 1) छह वर्ष से कम आयु के बच्चों का टीकाकरण करना
  • 2) छह वर्ष से कम आयु के बच्चों का अनुपूरक पोषण करना
  • 3) नए जन्मे शिशुओं तथा 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों की देखभाल करना
  • 4) समस्त गर्भवती स्त्रियों के लिए प्रसव पूर्व देखभाल और टीकाकरण करना
  • 5) 3-6 वर्ष की आयु के बच्चों को अनौपचारिक विद्यालयपूर्व शिक्षा प्रदान करना.
  • 6) 15-45 वर्ष के आयु वर्ग की सभी महिलाओं के लिए पोषण और स्वास्थय शिक्षा.
  • 7) गर्भवती और शिशुओं की देखभाल करने वाली स्त्रियों को अनूपूरक पोषण करना.
  • 8) गर्भवती महिलाओं की प्रसवपूर्वक देखभाल तथा शिशुओं की देखरेख करने वाली माताओं की प्रसवोत्तर देखभाल करना
  • 9) कुपोषण अथवा बीमारी के गंभीर मामलों को अस्पतालों, समुदाय स्वास्थय केन्द्रों अथवा जिला अस्पतालों पोषण पुनर्वास केंद्र नवजात शिशु गहन देखरेख यूनिट को भेजना

आंगनवाड़ी बनने के लिए चयन प्रक्रिया 

  • Anganwadi कार्यकर्ता के पद पर उम्मीदवारों का चयन आमतौर पर इंटरव्यू के आधार पर किया जाता है हालांकि रिक्तियों के अनुरूप यदि कम संख्या में आवेदन प्राप्त होते हैं तो संबंधित संस्थान उम्मीदवारों की शॉर्टलिस्टिंग के लिए शैक्षणिक रिकॉर्ड के आधार पर उम्मीदवारों चयन कर सकता है |

आंगनवाड़ी की सैलरी 

1 thought on “आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने”

Leave a Comment

Don`t copy text!